गुरुवार, 29 नवंबर 2012

Kitchen Remedies

Kitchen Remedies

(1) विज्ञान पत्रिका The Journal of Pain में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार गर्दन दर्द का भरोसेमंद

इलाज़ योग में निहित है .अलावा इसके योग  मानसिक सेहत के लिए भी अति उत्तम है .जीवन की

गुणवत्ता

कुलमिलाके बेहतरी के लिए भी  योग अपनाइए .

योग (यौगिक क्रियाएं ,भौतिक मुद्राएँ ,Active Yoga )न सिर्फ पेशियों को पुष्ट करतीं  हैं पेशीय तनाव का

भी

शमन करतीं हैं .

YOGA EFFECTIVE FOR TREATING CHRONIC NECK PAIN

A study published in The  Journal of Pain showed that yoga appears to be an effective treatment for neck pain and provides added benefits of improved psychological  well being and quality of life.Yoga might work as it enhances both the toning of muscles and releasing of muscle tension .

(2)कसरत करने के बाद ,जिम की ख़ाक छानने के बाद, हाईएनर्जी स्पोर्ट्स ड्रिंक के चक्कर में न पड़ें

सोडियम

और पोटेशियम बहुल नारियल पानी सुपाच्य और कम केलोरीज़ लिए है .बॉडी के इलेक्त्रोलाईट बेलेंस के

लिए भी बेहतर है .

(3)आपका अपने घर में बंद कमरों में धूम्रपान करना आपके नौनिहालों के लिए कानों के संक्रमण ,

न्युमोनिया (निमोनिया फेफड़ों की गंभीर बीमारी जिसके कारण सांस लेने में कठिनाई होती है ),श्वसनी

शोथ (श्वसनी नलियों  की एक बीमारी जिसके कारण बहुत बुरी तरह खांसी होती है बोले तो Bronchitis और

coughs साधारण खांसी के मामलों के वजन को बहुत बढ़ा देता है ."करे जुम्मा पिटे मुल्ला" वाली कहावत

चरितार्थ होती है यहाँ .

(4)Soft drink ups prostate cancer risk :

Just single sugary soft drink per day may raise a man's risk of developing prostate cancer  , a new 15 -year study has claimed .
Swedish researchers found men who drank 300 ml of a fizzy drink a day ,slightly less than a standard can , were 40%more likely to develop the disease than those who never consumed the  drinks .

तो यह है ज़नाब कोला पेयों की हकीकत रोजाना इन पेयों का मात्र 300मिलीलीटर सेवन प्रोस्टेट कैंसर के

खतरे के वजन को चालीस फीसद बढ़ा देता है बरक्स उनके जो इनसे परहेज़ रखते आयें हैं .एल्कोहल रहित

मीठे  एवं बुलबुलेदार  पेय कहलाते हैं फिजी ड्रिंक्स . फ़ूड कोम्बोज़ से सावधान रहिये जिनके साथ  ये पेय

मुफ्त

मिलतें हैं .




2 टिप्‍पणियां:

Kailash Sharma ने कहा…

बहुत उपयोगी जानकारी...

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

योग से थोड़ा वियोग था, पुनः प्रारम्भ करना है..