गुरुवार, 29 नवंबर 2012

रक्त या लार की एक बूँद ही काफी है मलेरिया की शिनाख्त के लिए

मलेरिया रोग निदान के लिए नया भरोसेमंद परीक्षण

A drop of blood or saliva to help diagnose malaria

The new method is much more time-effective and cost effective than current diagnostic procedures


रक्त या लार की एक बूँद ही काफी है मलेरिया की शिनाख्त के लिए

एक अतिसंवेदी भरोसे मंद रोगनैदानिक परीक्षण  मलेरिया की शिनाख्त के लिए रिसर्चरों ने तैयार किया है

जिसमें जांच के लिए रक्त या रोगी की लार की एक बूँद ही काफी रहेगी .

सीधी सरल सी इस जांच के लिए विशेष प्रशिक्षित लेब कर्मियों की भी ज़रुरत नहीं पड़ेगी ,न महंगे नैदानिक

उपकरणों की न  बिजली की न साफ़ पानी की .जिन इलाकों में संसाधनों की कमी है उनके लिए यह परीक्षण

वरदान साबित हो सकता है .

इस परीक्षण  को Arhus University के रिसर्चरों ने विकसित किया है .इसमें एक किण्वक (एंजाइम

,टोपोआइसोमरेज़ Topoisomerase I )की सक्रियता का मापन किया जाएगा .यह परजीवी Plasmodium के

सौजन्य से ही प्राप्त होगा .

The technology called REEAD (Rolling Circle -Enhanced Enzyme Activity Detection ) makes it possible to diagnose malaria from a single drop of blood or saliva .

ज्यादा टाइम इफेक्टिव ,ज्यादा कोस्ट इफेक्टिव सिद्ध होगा यह नैदानिक परीक्षण वर्तमान में उपलब्ध

परीक्षणों के बरक्स जिसे संपन्न करने के

लिए विशेष प्रशिक्षित कर्मियों की भी ज़रुरत नहीं पड़ेगी .समय भी कम लगेगा सस्ता भी रहेगा यह परीक्षण

असरकारी भी .भरोसे वाला भी .

एक तो मलेरिया के खिलाफ मुहीम इसलिए मुश्किल और पेचीला होती गई है ,प्लाजमोडियम परजीवी ने

दवा प्रतिरोध पैदा कर लिया है ,दूसरी तरफ इसकी कई प्रजातियाँ(P VIVAX ,P KNOWLESI) अब

परम्परा गत तुरता नैदानिक उपायों

से पकड़ में ही नहीं आती हैं .

यह परीक्षण भांप लेगा ,कहीं प्लाजमोडियम संक्रमण दवा प्रति -रोधी तो नहीं है .

The unique sensitivity , combined with its ability to detect infection in very small samples of blood or saliva ,makes the method suitable for large -scale screening projects.(SOURCE:PTI)

सन्दर्भ -सामिग्री :-

A drop of blood or saliva to help diagnose malaria/TIME TRENDS/THE TIMES OF INDIA ,MUMBAI ,NOVEMBER 29 ,2012,P15








3 टिप्‍पणियां:

Kailash Sharma ने कहा…

बहुत रोचक जानकारी..आभार

रविकर ने कहा…

आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति शुक्रवार के चर्चा मंच पर ।।

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

एक में निहित सब..