शुक्रवार, 23 नवंबर 2012

सेहतनामा

सेहतनामा

(1)कब्जियत से राहत के लिए खूबानी

यदि मल त्याग में काफी जोर मशक्कत करनी पड़ती है ,कब्ज़ रहती है ,रेशा बहुल खूबानी (Apricots) का

सेवन

कीजिये .

(2)माहवारी में होने वाली परेशानी को कम करने के लिए थोड़ी देर कमल आसन की मुद्रा में बैठिएगा .ऐसा

करने से नितम्ब (Hips)खुलते है श्रोणिक्षेत्र (Pelvis)को उत्तेजन प्राप्त होता है .

Suffering from mental discomfort ?Sit in the lotus position -it opens the hips and stimulates the

pelvis.

(3)ECTASY HELPS FIGHT OFF POST -TRAUMATIC STRESS

Ecstasy -the dance drug helps people suffering from post -traumatic stress  disorder benefit more from psychotherapy .Experts asserted that ecstasy reduces fear and defensiveness and increases trust between patient and the therapist, thus enhancing the effects of the psychotherapy

Ecstasy is the street name for methylenedioxymethamphetamine (MDMA), a mildly hallucinogenic drug that generates feelings of euphoria in those who take it .Its most common side -effect is hyperthermia ; drinking large quantities of water to combat the intense thirst produced by taking the drug may result in fatal damage to the body's fluid balance .Its manufacture ,sale ,use ,and possession are illegal ,

Ecstasy is  a sense of extreme wellbeing and bliss .The word applies particularly to trance states dominated by religious thinking .While not necessarily patholgical , it can be used by epilepsy (especially of the temporal lobe ) or by Schizophrenia or mania.

एक्सटेसी का मतलब है बिला वजह आह्लाद और आनंदातिरेक .यहाँ तक के खुद पर से व्यक्ति का नियंत्रण

हट जाता है .अंतर बाधा और अवरोध अन्दर से गिर जाते हैं फिर खेलो खुला खेल

फरुक्काबादी(फरुख्खाबादी ) यौन का ,यौन क्रीडा करो खुलके .

,संयम ,नैतिक पहरा तो हटा दिया इस मौज मस्ती की दवा ने जो एक प्रतिबंधित नशीला पदार्थ है अलबत्ता

इसके चिकित्सीय इस्तेमाल की माहिरों को इजाज़त है जैसे कैंसर के मरीजों को मार्फीन आधारित तेज़ दर्द

नाशी देने की छूट  है ताकि बीमारी की अंतिम अवस्था में वह मर तो चैन से सकें .  ऐसे ही जिन लोगों ने

अपनी आँखों के आगे अपनों  का कत्ल देखा है (चौरासी के दंगा पीड़ित ,कोंग्रेस पीड़ित लोग ) और जो

सदमे का शिकार हो गए हैं उनके लिए सलाह मशविरा के साथ साथ एक्सटेसी दी जाती है .

जैसा आपने पढ़ा दृष्टिभ्रम ,श्रुति भ्रम पैदा कर सकती है यह प्रतिबंधित दवा मौज मस्ती के लिए लेते रहने

से , हैलूसिन -जनिक है यह दवा .आम इस्तेमाल के लिए नहीं है यह .


5 टिप्‍पणियां:

रविकर ने कहा…

यह अच्छी शृंखला सिद्ध हो रही है-
आभार वीरू भाई-

"अनंत" अरुन शर्मा ने कहा…

हर दिन नयी और रोचक नहीं जानकारियाँ मिल रही हैं, आपसे सर बहुत-2 शुक्रिया

पुरुषोत्तम पाण्डेय ने कहा…

सर्वजनहिताय आपकी लेखनी धन्य है. स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता जगाने वाला आपका अनूठा ब्लॉग है . इसका नित्य इन्तजार रहता है. साधुवाद.

प्रतिभा सक्सेना ने कहा…

सबके स्वास्थ्य के लिये खोज-बीन कर महत्वपूर्ण जानकारियाँ देते हैं - आपको साधुवाद !

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

आपको हर बार पढ़ना अच्छा लगता है, सेहत सुधर जाती है।