शुक्रवार, 16 नवंबर 2012

श्रवण विकलांगता की और भी ले जाती है मधुमेह

श्रवण विकलांगता की और भी ले जाती है मधुमेह 

पुरानी पड़ जाने पर खून में अतिशय शक्कर की बीमारी न सिर्फ ला -परवाही बरतने पर हमारी बीनाई (नेत्र

ज्योति )ले उड़ती  है श्रवण हीनता ,विशिष्ट श्रवण क्षति की भी वजह बन सकती है .

मधुमेह के साथ बीसियों साल गुज़ारने वालों को खबरदारी रखनी पड़ती है 

DIABETIC RETINOPATHY 

की भी .इस एवज सालाना जांच करवानी पड़ती है .

दीर्घावधि बनी रहने वाली मधुमेह ,उच्च रक्त चाप और HIV-AIDS का एक पेचीलापन ,जटिलता होती है

DIABETIC RETINOPATHY तथा AIDS RETINOPATHY जिसमें आँख के परदे की कोशिकाएं ही

 क्षतिग्रस्त

होने लगती हैं .इन क्षतिग्रस्त कोशाओं से रक्त स्राव भी हो सकता है .

लेकिन अभिनव अध्ययन अब इसकी एक और जटिलता बधिरपन /श्रवण विकलांगता की और संकेत कर

रहा है .

Diabetes can cause deafness ,says study (TIMES TRENDS/THE

 TIMES OF INDIA ,MUMBAI ,NOVEMBER 16 ,2012 P15)

शोधार्थियों की माने तो मधुमेह रोगियों में विशिष्ट श्रवण क्षति का होना आम है ,उच्चतर है,  बरक्स उनके

जो इस

जीवन शैली रोग से बचे हुए हैं . इस अन्वेषण का बुढ़ाने /उम्र दराज़ होते चले जाने या फिर शोर शराबे में

रहने की बाध्यता से पैदा श्रवण ह्रास से कोई ताल्लुक नहीं है .

रिसर्चरों के अनुसार 1995 -2004 की अवधि में इस विशिष्ट श्रवण क्षति से ग्रस्त लोगों की तादाद दोगुने से

ज्यादा दर्ज़ हुई है .

ऐसा  प्रतीत होता है कालान्तर में खून में बने रहने वाला शक्कर का उच्चतर स्तर श्रवण सम्बन्धी नए गुल

खिलाता है .

High blood glucose levels can damage vessels in the stria vascularis 

and nerves diminishing the 

abilty to hear .

रिसर्चरों को मधुमेह से ग्रस्त व्यक्तियों में श्रवण विकलांगता दोगुने से ज्यादा दिखलाई दी है बरक्स उनके

जिन्हें यह रोग है ही नहीं .

STRIA VASCULARIS :IT IS THE UPPER PART OF THE SPIRAL LIGAMENT OF THE

 SCALA MEDIA THAT CONTAINS NUMEROUS SMALL BLOOD VESSELS.

जीवन को जीवन देने वाली माँ जीवन से बड़ी होती है .कैथोलिक चर्च को इस बुनियादी बात का भी इल्म नहीं है .वही मध्य युगीन धर्मान्धता आज भी कैथोलिक चर्च के गिर्द व्याप्त है .नियम क़ानून 

विधान सब कुछ आदमी के लिए है आदमी इन पर होम किये जाने के लिए नहीं है .

ये वही धरमांध चर्च है जिसने सच बोलने पर गैलिलीयो की आँखें फोड़ दीं थीं आर्क्मिदीज़ की गर्दन चाक कर दी थी .गेलिलीयो ने तब भी बुदबुदाया था- सच वही है जो मैं कहता हूँ पृथ्वी ही घूमती है सूर्य 

के गिर्द और वह सृष्टि की केंद्र नहीं है . 

4 टिप्‍पणियां:

यादें....ashok saluja . ने कहा…

वीरू भाई राम-राम !
दुर्घटना से सावधानी भली ....
आभार!

SM ने कहा…

India is going to become the capital of diabetic patients or may be its alreayd

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

बहुत ध्यान रखना होता है, साथ रहने वालों को..

ZEAL ने कहा…

informative post...thanks.