शुक्रवार, 16 नवंबर 2012

H1N1 bigger killer in Maharashtra State than dengue &malaria

H1N1 bigger killer in Maharashtra State than dengue &malaria  


वर्ष 2012 में H1N1 विषाणु ने राज्य में जितने लोगों को लील लिया वह संख्या डेंगू और मलेरिया दोनों से

होने वाली मौतों से भी ज्यादा रही है .गत वर्ष की तुलना में फ्ल्यू की इस घातक किस्म ने 60 फीसद ज्यादा

लोगों को संक्रमित किया .बेशक इनमें  से मृत्यु केवल पांच की ही हुई .

माहिरों को आशंका है आसन्न सर्दी के मौसम में यह विषाणु नया रुख लेकर क्या गुल खिलायेगा इसका

कोई निश्चय नहीं है .

2009 में यही फ्ल्यू विश्वमारी (आलमी महामारी ,PANDEMIC )( जिसे तब स्वाइन फ्ल्यू कहा गया था

),बनके प्रगटित हुआ था लेकिन अचानक यह इस बरस फिर व्यापक रूप से

 लौटा और यहाँ पहुंचकर इसने 1,234 लोगों को तो आधिकारिक तौर पर  संक्रमित कर दिया . गत दस

महीनों में यह कुलमिलाकर 122 लोगों को लील भी गया .यह संख्या कुलमिलाकर इसी अवधि में मलेरिया

से

होने वाली मौतों की दोगुनी है .

राज्य के अपने रिकोर्ड के मुताबिक़ मलेरिया और डेंगू से  इसी दरमियान जबकि  क्रमश :60 और 59 लोगों

की ही मौत

हुई .

आइये मुंबई की बात करें 

इस बरस अकेले मुंबई में ही 358 मामले H1N1 के दर्ज़ हुए पांच लोग इसका  ग्रास बने जबकि गत वर्ष कुल

6(छ :)

मामले इस संक्रमण के दर्ज़ हुए और सिर्फ एक व्यक्ति की ही इस सक्रमण से मौत हुई थी .

जबकि  मलेरिया की ही भेंट इस बरस 30 लोग चढ़ गए और कुल मिलाके तकरीबन 14,000


लोग मलेरिया से ग्रस्त हुए .भले यह गत वर्ष की तुलना में 58%कम रहा है इस बरस .दूसरे  नम्बर पर

H1N1 तथा तीसरे पर डेंगू रहा जिससे मुम्बई में तीन लोगों की मृत्यु हुई है .

राज्य के माहिरों के मुताबिक़ मृत्यु दर अभी भी H1N1 संक्रमण के मामलों में ही ज्यादा रही है अन्य मौसमी

बीमारियों के बरक्स .

मसलन जिन लोगों को फ्ल्यू संक्रमण हुआ उनमें  से 9.15%की मौत हो गई जबकि मलेरिया की चपेट में

आये लोगों में से मात्र 1%ही की मौत हुई .

National Institute of Virology के निर्देशक डॉ .ए .सी .मिश्रा साहब  के मुताबिक़ बरसात के मौसम में

H1N1 इस बरस व्यापक स्तर पर फैला है .ज़ाहिर हैं जब ज्यादा मामले दर्ज़ होंगे तो गंभीर मामलों की

संख्या भी ज्यादा होगी और मौत की दर भी बढ़ेगी .माहौल इसके व्यापक फैलाव के सर्वथा अनुकूल रहा है

इस बरस .इसका कोई निश्चय नहीं यह संक्रमण अब सर्दी के दिनों में कैसा रुख इख्त्यार  करता है .सावधान

होकर सब कुछ देखना करना होगा .

निश्चिन्त होकर नहीं बैठा जा सकता है .जुलाई -अगस्त महीनों में खासा सक्रीय रहने के बाद जबकि

कुलमिलाकर 200 मामले इस संक्रमण के दर्ज़ हुए ,सितम्बर के महीने में 37 तथा अक्टूबर में 5 मामले दर्ज़

हुए हैं .

क्या कहतें हैं माहिर इस बाबत मुंबई के बारे में

Physician Dr Hemant Thacker ,who consults at Breach Candy and Jaslok hospitals ,said that vector

-borne ailments have ruled the roost this year .

 "Dengu has caused much more morbidity than all other ailments .H1N1 has not been that scary for

the city ,"he said.

Vector:  A Vector is a disease transmitting organism such as a mosquito or tick that transmits

disease -causing micro-organisms from infected individuals to other persons ,or from infected

animals to human beings .

Mosquitoes for example are vectors of malaria ,dengu ,filariasis ,and yellow fever.





2 टिप्‍पणियां:

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

खतरा सा बरपाता डेंगू,
दिन में ही आ जाता डेंगू।

madhu singh ने कहा…


dengu?ek gambhir khatara,'DENGU AB BYAPAR HO GYA,KHANE PINE KA JUGAD HO GAYA,SARKARE TO CHAHA KARTI HAI,ROJ KOE BIMARI AAYE,PAISA SAB US TARAF LAGAYE,PAKET APANA KHOOB BHARE GHAR APNA SWARG KA DWAR BANAYE,KHUDA SABHI KO SALAMAT RAKHE,