मंगलवार, 12 फ़रवरी 2013

चेहरे की कान्ति और त्वचा को ज़वान बनाए रखने

नुसखे सेहत के 

(1)ताज़ा टमाटर और पके हुए पपीते के गुदे का फेस 

पैक बुढ़ापा रोधी पुष्टिकर तत्वों की खान है .चेहरे की 

कान्ति और त्वचा को ज़वान  बनाए रखने के लिए एक 

पखवाड़े में एक बार यह पैक आजमायें .

A facepack made of fresh tomato pulp is loaded 

with anti -aging nutrients .Apply once a fortnight to 

keep your skin radiant .

(2)गले की दुखन (Sore throat )से राहत का आसान 

उपाय है एक ग्लास गुनगुने पानी में एक छोटा चम्मच 

नमक मिलाके कमसे कम दिन भर में चार मर्तबा गरारे 

करें .


(3)स्ट्रेस गंभीर रूप से कीलमुंहासों को बढ़ावा देता है .नियमित व्यायाम 

में छिपा है इस जोखिम को कम करने का समाधान .

(4)गाज़र क्षारीय तत्व (एल्केलाइन एलिमेंट्स )प्रचुरता से लिए रहतीं हैं 


.खून साफ़ करने और री -वाइटल -आइज़ करने में इन तत्वों  योगदान 

रहता है . 




(5)अंजीर का फल पोटेशियम से भरपूर है .यह रक्त 

चाप को नियंत्रित रखने एवं आघात (ब्रेन अटेक )तथा 

दिल की बीमारियों से बचाए रख सकता है .

(6)नाखूनों की मजबूती के लिए अँगुलियों और अंगूठों 

के नाखूनों के जड़ की कठोर त्वचा(उपचर्म या उपत्वचा 

,क्युटिकिल ) में   थोड़ा सा Castor oil (अरंडी का तेल 

जिसका इस्तेमाल विरेचन आदि में होता है )मलिए .यह 

विटामिन E युक्त होता है जो उपचर्म के लिए बढ़िया 

टोनिक का काम करता है . 

(7)SMOKING MARIUUANA LINKED TO 

HIGHER STROKE RISK 

Researchers have found an increased risk of stroke among those smoking marijuana compared to those who did not ,while research published in the American Heart Journal said marijuana users who had heart attacks were no more likely to die than those hadn't smoked cannabis.

 मैरवाना गांजे जैसा एक नशीला पदार्थ है जिसका 

सेवन अनेक देशों में गैर कानूनी है .अक्सर लोग चोरी 

छिपे इसका इस्तेमाल सिगरेट तम्बाकू में मिलाके 

करते हैं .

रिसर्चरों ने पता लगाया है इसका सिगरेट के रूप में 

इस्तेमाल करने वालों के लिए दिमागी दौरे (स्ट्रोक ,ब्रेन 

अटेक )का ख़तरा न करने वालों के बनिस्पत बहुत बढ़ 

जाता है .

कैनबिस भांग जाति के एक पौधे से बनाया गया 

नशीला पदार्थ है जिसका सेवन कुछ लोग आननद के 

लिए करते हैं .इसे चरस भी कहा  जाता है .

अमरीकी  हार्ट जर्नल में प्रकाशित एक शोध पत्र के  

अनुसार मैरवाना का सेवन करने वाले जो लोग दिल के 

दौरों की चपेट में आ जाते हैं उनके मरने की संभावना 

उन 

लोगों से ज्यादा नहीं रहती है जो गांजे का सेवन नहीं 

करते हैं .






3 टिप्‍पणियां:

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

देशी उपाय, बड़े प्रभावी उपाय..

Rajendra Kumar ने कहा…

बहुत ही लाभकारी देशी उपाय इसके लिए आभार।

Dr.NISHA MAHARANA ने कहा…

bahut dinoon bad aai aapke blog par ....ab niymit aaungi ....badi upyogi jankari lekar jaa rahi hoon ......thanks ...