गुरुवार, 21 फ़रवरी 2013

सेहतनामा

सेहतनामा 

(१)आमतौर पर बच्चों को होने वाली सूखी खांसी (कुकर खांसी ,कुकास ,हूपिंग क़ाफ़ ,पर्टुसिस ,Prtussis)jisme जिसमें जोर से खांसने के साथ सांस लेने में भी कष्ट होता है बच्चों को बे -दम कर देती है .

शुद्ध कुदरती शहद का  सेवन इसमें बड़ा फायदा पहुंचाता है .

(२)अधिक गुस्सा आने ,भूख लगने पर दोनों ही स्थितियों  में डेंस कार्ब्स का सेवन दोनों का बढ़िया शमन करता है .ब्राउन राइस और बीन्स आजमायें .

(३)एक और भी उपाय है गुस्से और हताशा के शमन का .लिख डालिए अपने आवेगों संवेगों को डायरी में .अभिव्यक्ति का बड़ा सुख मिलता है दवाब कम होगा अन्दर का .

(४)अधिक नमक सना खाद्य दिल की बीमारियों और ब्रेन अटेक (स्ट्रोक )का ख़तरा तीन गुना कर देता है .

(५)नियमित कसरत व्यायाम करते रहना न सिर्फ हृद पेशी की सेहत के लिए अच्छा है यह बुद्धि कौशल में भी इजाफा करता है .अध्ययनों से अब यह पुष्ट हुआ ,ऑक्सीजन की खपत बढ़ाने  वाले व्यायाम बच्चों और बड़ों में समान  रूप से  दिमाग के कुछ मह्त्वपूर्ण हिस्सों के आकार में वृद्धि करतें  है .इन हिस्सों में वृद्धि से  बोध सम्बन्धी, संज्ञानात्मक सुधार आता है . 

(६)त्वचा के रूखी ,खुश्क बने रहने पर एवोकाडो का सेवन खुश्की कम करता है .सेहत में सुधार लाता है चमड़ी की .एकलअसंतृप्त वसाओं (मोनो -अन -सेचुरेटिड फेट्स )और विटामिन E का ज़बर्जस्त स्रोत है एवोकाडो .

(७)चुस्ती और याददाश्त दोनों में इजाफा करती  है rosemary (एक किस्म की सुगन्धित मेहँदी ,रोजमरि )की गंध .

(८)कबाड़िया भोजन से आती है जिगर पे सोजिश 

Junk food hurts liver like hepatitis 

जंक फ़ूड का चस्का ,नियमित सेवन न सिर्फ आपकी 

वेस्टलाइन ,कटिप्रदेश की माप को बढ़ाता  है जिगर पे 

सूजन भी पैदा करदेता है यकृत शोथ (hepatitis )की 

तरह .
(9)HAIR DYE CHEMICALS LINKED TO 

CANCER

Chemicals called secondary amines in permanent hair dyes ,can react with tobacco smoke and other pollutants to create one of the most powerful cancer -causing compound called N-nitrosamines ,researchers reported in the journal Materials.

(10)फरवरी माह में माशूका के चुम्बन से बीमार हो जाने का ख़तरा है .यह मौसम है सर्दी जुकाम ,आम इन्फ़्ल्युएन्जा  और H1N1 Influenza 



का ,Mononucleosis का .
मोनोनुक्लिओसिस एक ऐसा  एक ऐसा विषाणु से पैदा संक्रमण है जिसके लक्षणों में बुखार ,गले की दुखन ,और लसिका ग्रंथियों की सूजन शामिल है .खासकर गले की LYMPH GLANDS का .संक्रमित व्यक्ति में भले लक्षणों का प्रगटीकरण होने में देर लगे लेकिन वायरस दूसरों को थमाने में देरी नहीं होती है .




4 टिप्‍पणियां:

अरुन शर्मा 'अनन्त' ने कहा…

आदरणीय सर प्रणाम कुछ दिनों के बाद आपने ब्लॉग पर आना हुआ और फिर से एक नई और रोचक जानकारी का लुल्फ़ उठाने को मिला हार्दिक बधाई स्वीकारें

Pratibha Verma ने कहा…

रोचक जानकारी...

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

स्वास्थ्य लौट आया है, आभार आपकी सलाह का।

Anita (अनिता) ने कहा…

हमेशा की तरह बढ़िया उपाय !
~सादर!!!