मंगलवार, 29 जनवरी 2013

सेहतनामा

सेहतनामा 

(1)मूली एक बेहतरीन मूत्रल(मूत्रवर्धक ) एजेंट है ,Diuretic गुण लिए है .मूत्र सम्बन्धी विकारों में मददगार है

.गुर्दों के

बढ़िया


संचालन में भी .

(2)चुकंदर (Beetroot ) B VITAMIN FOLATE से भरपूर है .गर्भवती महिलाओं में गर्भस्थ के रीढ़ रज्जु

निर्माण में बढ़िया भूमिका निभाती है .

(3)NEARBY LIGHTNING MAY BE LINKED TO MIGRAINES

Based on headache logs and weather data researchers from the University of Cincinnati found that people were 28 %more likely to experience a migraine when lighting struck within 40 kilometers of their home.The study appears in the journal Cephalagia.

आकाश में बिजली का कौंधना आधा शीशी के दर्द को भड़का देता है भले यह गर्जन तर्जन व्यक्ति के घर से

चालीस किलोमीटर की दूरी में घटित होता हो .


(4 )यदि मसालेदार चटपटा भोजन चबा चबाकर खाने के बाद आपकी 

आँखों से पानी बहने  लगे ,समझिये आप केलोरीज़ भी  ज्यादा जलाएंगे 

खर्च करेंगे इसके पाचन , उपपाचन  में . जब यह भोजन रासायनिक 

क्रियाओं द्वारा ऊर्जा में बदलेगा ज्यादा ऊर्जा खर्च होगी .आपकी हार्ट रेट में 

भी इजाफा होगा .व्यायाम के बाद भी ,स्वस्थ सेक्स के बाद भी आपकी हार्ट 

रेट बढती है .

मेटाबोलिज्म(उपपाचन ,अपचयन ) को तेज़ तर्रार बनाने के लिए चटपटा 

भोजन करिए .

याद आ रहें हैं हमें बुलंदशहर के दम आलू जो सर्दियों में खोमचे वाले बनाते 

हैं गर्म मसाला लॉन्ग काली मिर्च का शोर    तेज़ पत्ते की  खुशबू रहती है 

इस सर्दियों के तोहफे में .खाते खाते आँख से पानी बहने लगता है लेकिन 

बाद में न कोई जलन न खट्टा पन ,न कोई अम्लता .ऐसा होता है जादू 

इस चटपटे परम्परागत दम आलू का .

(5 )अमूमन ताज़ा पानी पीने की सलाह दी जाती है दिन भर में दस ग्लास 

ताकि उपपाचन की बढ़िया रफ़्तार बनी रहे .पोषक तत्व सभी कोशाओं तक 

पहुँचते रहें .

रिसर्चरों ने पता लगाया है ठंडा पानी(चिल्ड वाटर ) और भी मुफीद  रहता है 

.आपका शरीर  

और भी ज्यादा केलोरी खर्च करता है ठंडे पानी को शरीर के कोर तापमान 

तक लाने में .

निर्जलीकरण को अक्सर लोग क्षुधा मान बैठते हैं .पर्याप्त पानी पीने पर 

आप अच्छे से  जलीकृत, वेळहाइड्रेटिड रहतें हैं ,खाना भकोसते नहीं है कम 

खाते हैं 

.बिंज ईटिंग नहीं करते .अपने पेट को पानी से  भरा रखिये (प्रोसटेटिक 

एनलार्जमेंट के मरीज़ एक साथ ज्यादा पानी न पिएँ ).वजन कम होगा .

(6 )रिसर्चरों ने पता लगाया है गाय के भोजन में अलसी के बीज (Flax 

seeds ,linseeds )शामिल करने से ,दूध में ओमेगा- थ्री -फेटि एसिड्स बढ़ 

जाते हैं .

गौर तलब है ओमेगा थ्री फेटि एसिड्स तथा अन्य असंतृप्त वसा से युक्त  

 खुराक दिल की बीमारियों के खतरे के वजन को कम करती है .सेवा 

कीजिए गाय की उसे फ्लेक्स सीड्स से सनी खुराक दीजिए .

(7 )बढ़िया नींद के लिए रात को एक ग्लास गुनगुना दूध पीके सोइयेगा .

(8 )नियमित शरीर की मालिश चमड़ी को पोषक तत्व मुहैया करवाती है 

प्लाज्मा ब्लड से अपशिष्ट निकाल बाहर करने में मददगार रहती है .शरीर 

के आंतरिक ऊतकों का पोषण करती है .

(9 )VIDEO GAME CONTROLLERS AFFECT HOSTILITY 

A  study found that individuals playing with the Wii nunchuck ,were 

more likely to feel hostile after playing a video game than those used 

a more traditional 


controller.


(10 )कीलमुहांसों की उग्रता को कम करने के लिए नियमित गाज़र का सेवन कीजिये .गाज़र ऐसे गुणों से

युक्त है

ऐसे रासायनिक तत्वों का खज़ाना है जो हमारे यकृत की साफ़ सफाई करके उससे अनावश्यक विषाक्त

पदार्थ Toxins निकाल बाहर करती है .

(11 )  लाल मिर्ची रोगप्रतिरक्षण को पुष्ट करती है .इसमें मौजूद रहतें हैं पुष्टिकर तत्व विटामिन A,B और

C.

तरह तरह के रोगकारकों (Pathogens)से हमारी हिफाज़त करती है लाल मिर्ची .

(12 )MEDITERRANEAN DIET MAY NOT PROTECT THE BRAIN

Hopes that a Mediterranean diet would be as good for the head as it is for the heart may have been

dampened by a french study that found little benefit for aging brains from the diet rich in fruit

,vegetables  ,whole grains ,nuts ,wine and olive oil

(13 )Pre-breakfast workout is better :

सुबह सवेरे नास्ते से पहले की सैर ,नास्ता पूर्व किया गया हल्का व्यायाम 

20 % ज्यादा चर्बी जलाने में कारगर सिद्ध होता है .एक नए अध्ययन में 

रिसर्चरों ने पता लगाया है प्रात :नाश्ते से पहले कसरत करने वाले 

अतिरिक्त केलोरीज़ भी खुराक में नहीं लेते है न ही दिन भर में इन्हें ज्यादा 

भूख का अनुभव होता है सुबह के कसरत में खपाई गई अतिरिक्त केलोरीज़ 

की आपूर्ति के लिए .

(14)दिल और दिमाग के लिए बुरा नहीं है अंडा 

An egg a day doesn't up heart disease risk 

दिल और दिमाग के रोगों के जोखिम को नहीं बढ़ाता है अंडा .ब्रितानी 

चिकित्सा परिपत्र 'ब्रिटिश मेडिकल जर्नल 'में प्रकाशित एक अध्ययन से 

यह पुष्ट हुआ रोजाना एक अंडा खाने वालों के लिए न दिल के रोगों के 

खतरे का वजन बढ़ता है न ब्रेन अटेक का .

अलबत्ता अध्ययन में शामिल मधुमेह ग्रस्त उन लोगों में जो अंडे का 

ज्यादा सेवन कर रहे थे परिहृदय रोग (कोरोनरी आर्टरी डिजीज CAD)के 

खतरे का वजन बढ़ने और अंडे के अतिरिक्त सेवन में एक अंतर सम्बन्ध 

ज़रूर 

देखा गया है  .लेकिन साथ ही ब्रेन अटेक  की एक किस्म हेमोरेजिक स्ट्रोक 

(Hemorrhagic  stroke )के घटने का भी इल्म हुआ है .

दिल की बीमारियों के सन्दर्भ में अंडे की भूमिका की पड़ताल अनेक 

महामारी के फैलने और उन पर नियंत्रण  सम्बन्धी वैज्ञानिक अध्ययनों में 

की गई है .खासकर खुराकी कोलेस्ट्रोल के एक स्रोत के रूप में इसके रोल को 

बूझने के लिए एपिडीमियालाजिकल अध्ययन किये गएँ हैं .लेकिन क्या 

इसका सेवन कोरोनरी आर्टरी डिजीज और स्ट्रोक के खतरे को बढाता है 

इसका आज तक खुलासा नहीं हो सका  है .

"This meta-analysis identified no significant association between egg consumption and risk of coronary heart disease or stroke .Higher intake of eggs (up to one egg per day )was not associated with risk of coronary heart disease or stroke ," the study said.

फोर्टिस अस्पताल के डॉ अनूप मिश्रा साहब ने दो टूक कहा है इस अध्ययन 

से पता चलता है ,अंडे का रोज़ाना सेवन रोग मुक्त लोगों में दिल और 

दिमाग के रोगों के खतरे को नहीं बढाता है .आप अस्पताल के सेंटर आफ 

एक्सीलेंस फार डायबिटीज़ एंड मेटाबोलिक डिजीज (CDOC)के मुखिया हैं .

माहिरों के अनुसार अब अण्डों को विटामिन D और उच्च गुणवत्ता प्रोटीन 

का एक बेहतरीन स्रोत समझा जाता है .गौर तलब है एशियाइयों में इस 

विटामिन की कमी बेशी बनी रहती है .अलावा इसके प्रोटीन बहुल खुराक 

तौल घटाने  में भी कारगर सिद्ध हो सकती है ऐसा हालिया अध्ययनों से 

पुष्ट हुआ है .

इस अध्ययन से यह भी पुष्ट हुआ है ,बेशक  विकसित देशों में दिल की 

बीमारी का प्रकोप थोड़ा कम हुआ है लेकिन आज भी यह दुनिया भर में 

मौतों की एक बड़ी वजह बना हुआ है .गरीब और मंझौली  आमदनी वाले 

देशों में दिल की बीमारियों के मामले नाटकीय तौर पर बढ़ें हैं ,बढ़ रहें हैं 

.विकाशशील देशों में सन 2020 में दिल की बीमारियाँ  मौत की एहम वजह 

बन सकती हैं . LDL Choleterol का बढ़ा हुआ स्तर खतरे के वजन को 

बढाए रहता है .

सन्दर्भ -सामिग्री :-An egg a day doesn't up heart disease risk/TIMES TRENDS/THE TIMES OF INDIA ,MUMBAI ,JANUARY 29 ,2013,P17 


(15)ध्यान योग में छिपा है मनोरोगों का समाधान




पांचहज़ार साला हमारी योग ध्यान और मननशीलता की परम्परा का अब पश्चिमी शोध समर्थन कर रहा है .

शोधकर्ताओं ने तकरीबन 100 अध्ययनों का पुनर आकलन करने के बाद बतलाया है चिन्तनशीलता एवं

ध्यान की यह बरसों पुरानी पद्धति मेजर डिप्रेशन ,शिजोफ्रेनिया ,बाईपोलर इलनेस एवं नींद से जुडी अनिद्रा

रोग जैसी समस्याओं की उग्रता का शमन करने में कारगर सिद्ध होती है .

पुनर आकलन  में सारा ध्यान 16 अति उच्च गुणवत्ता नियंत्रित अध्ययनों पर लगाया गया .मकसद था

,ध्यान योग के अवसाद ,मनोविदलता (शिजोफ़्रेनिआ ,एक गंभीर मनोरोग जिसमें रोगी वास्तविक और

काल्पनिक संसार में भेद नहीं कर पाता तथा विचित्र एवं अनपेक्षित रीति से आचरण करता है ,सामाजिक

सामंजस्य में उसे मुश्किल पेश आती है ),अटेंशन डेफिसिट हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर ,नींद से जुड़ी

समस्याओं ,ईटिंग डिसऑर्डर्स ,बोध सम्बन्धी समस्याओं (कोगनिटिव प्रोब्लम्स ) पर पड़ने वाले प्रभावों का

जायजा लेना .

सन्दर्भ -सामिग्री :-Yoga to help beat depression :SHORT CUTS /THE TIMES OF INDIA ,MUMBAI ,JANUARY 28 ,2013,P17 /TIMES TRENDS

शीर्षक :ध्यान योग में छिपा है मनोरोगों का समाधान

लेवल:ध्यान योग ,चिंतनशीलता ,मनोरोग ,खानपान एवं निद्रा से जुड़ी  समस्याएं








Images for red chillies in pictures

 - Report images
  •      
  •      
  •      
  •      
  •      
  •      
  •      
  •      
  •      
  •      
  •      
  •      



A bunch of fresh carrots.









3 टिप्‍पणियां:

Asha Saxena ने कहा…

बहुत ज्ञानवर्धक लेख है |इस हेतु आभार |
आशा

Kalipad "Prasad" ने कहा…


Gyan vardhak lekh -aabhar
New post तुम ही हो दामिनी।

India Darpan ने कहा…

बहुत ही शानदार और सराहनीय प्रस्तुति....
बधाई

जयपुर न्यूज
पर भी पधारेँ।