शनिवार, 26 मई 2012

दिल के खतरे को बढ़ा सकतीं हैं केल्शियम की गोलियां

दुनिया भर में तजवीज़ किये गए मरीजों को लिखे गए दवाओं के नुश्खे खंगालिए तो जानिएगा लाखों लाख लोगों को अस्थियों को मज़बूत बनाए  रखने खासकर बढती हुई उम्र में होने वाले बोन मॉस लोस अश्थी पदार्थ क्षय से बचावी चिकित्सा के बतौर   केल्शियम सम्पूरण या फिर केल्शियम की गोलिया खाने को कहा जा रहा है .

अब ज्यूरिख विश्व -विद्यालय एवं जर्मन शोध केंद्र ,Heidelberg  के रिसर्चरों ने न सिर्फ इस बचावी  चिकित्सा की कारगरता पर निशाना साधा है ,यह भी जड़ दिया है कि इन गोलियों के दीर्घावधि सेवन से दिल के दौरों के खतरे का वजन कई गुना बढ़ जाता है .

बेशक माहिरों ने इनके अन्वेषण को यह कहके बरतरफ  कर  परे धकेलने की कोशिश की है कि एक अकेले दोषपूर्ण अध्ययन से कुछ नहीं होता कोई निष्कर्ष निश्च्यातामक  तौर पर नहीं निकाला जा सकता .उधर रिसर्चर अपनी बात पे कायम हैं .

रिसर्चरों  ने २३९८० लोगों  पर पूरे ११ साल तक निगाह रखी है .पता चला है इनमे से जो नियमित केल्शियम गोलियां लेते रहें हैं उनके लिए करीब करीब दो गुना बढ़ जाता है दिल के दौरे का जोखिम .

पता यह भी चला कि उन १५,९५९ व्यक्तियों में से सिर्फ८५१ को  इस दरमियान दिल का दौरा पड़ा जो किसी भी बिध केल्शियम का इस्तेमाल नहीं करते थे ,जबकि केल्शियम सम्पूरण इस्तेमाल करने वालों के लिए इस दरमियान यह जोखिम ८६% बढ़ गया था .

जर्नल 'हार्ट' में रिसर्चरों ने इस अध्ययन का पूरा ब्योरा दिया है .बताया है इन सम्पूरण के चलन से दिल के दौरे का ख़तरा खासा बढ़ गया होगा .

सावधानी बरती जानी चाहिए इन गोलियों के इस्तेमाल में .इनके सेवन से जो ख़तराहार्ट अटेक का  सालाना ७०० के पीछे केवल एक व्यक्ति को रहा है वह बढ़कर ३५० के पीछे एक हो गया है .

बेहतर हो लोग ऐसी चीज़ें खाएं जिनमे कुदरती तौर पर केल्शियम का प्राचुर्य है यथा चीज़ ,दूध ,दही ,छाछ ,केला ,हरे पत्ते दार सब्जियां वगैरहा .

यह अन्वेषण उस अनुशंशा का विरोध करते हैं जिसके अनुसार १५०० मिलीग्राम या इससे कम केल्शियम का सम्पूरण कोई हानि नहीं पहुंचाता है .ये सिफारिशें स्वास्थ्य विभाग UK की हैं .

अलबता ये विभाग भी इससे ज्यादा सम्पूरण लेने के प्रति चेतावनी देता हुआ बतलाता है इससे ज्यादा मात्रा में केल्शियम सम्पूरण का रोज़ -बा -रोज़ का सेवन पेट दर्द और अतिसार की वजह बन सकता है .

बेशक केल्शियम और विटामिन डी का सम्बन्ध अश्थियों की मजबूती हड्डियों के स्वास्थ्य से योरोपियन फ़ूड सेफ्टी ऑथोरिटी ने भी जोड़ा है .

महत्व पूर्ण है केल्शियम की खुराक और वह अवधि जिस तक इसका सेवन माहिरों की सिफारिश करती है .कृपया इस बाबत अपनी कुछ न चलायें . 

सन्दर्भ सामिग्री :CALCIUM PILLS MAY UP HEART ATTACK RISK 

Supplements To Strength  Bones Should Be Taken With  Caution ,Says Study/TIMES TRENDS /THE TIMES OF INDIA ,MUMBAI ,MAY 25,2012,P21

लेबल :दिल के खतरे को बढ़ा सकतीं हैं केल्शियम  की गोलियां 

10 टिप्‍पणियां:

Anita ने कहा…

बेहद उपयोगी पोस्ट ! यकीनन हमें कुदरती तरीकों से ही कैल्शियम लेना चाहिए.

कुमार राधारमण ने कहा…

हरी पत्तेदार सब्जियां ही ठीक हैं- कैल्शियम का कैल्शियम,रफेज का रफेज।

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') ने कहा…

सार्थक उपयोगी पोस्ट...
सादर आभार.

रश्मि प्रभा... ने कहा…

अब लीजिये ... बिना सलाह के भी लोग कैल्शिं की गोलियां लेते हैं कि फ़ायदा ही करेगा .... एक जानकारी मिली

Maheshwari kaneri ने कहा…

उपयोगी पोस्ट...
सादर आभार.

मनोज कुमार ने कहा…

हे भगवान। अब किसे मज़बूत करें हड्डियों को या दिल को या दिल को मज़बूत कर हड्डियों को मज़बूत करते रहें?

Ayodhya Prasad ने कहा…

सार्थक पोस्ट

dheerendra ने कहा…

यकीनन बहुत उपयोगी जानकारी देती सार्थक पोस्ट,,,,

दिगम्बर नासवा ने कहा…

Is baat ka nahi pata tha ... Ab calcium ki goli dhyan se khani padegi ...
Rama Rama Ji ..

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

हड्डी मजबूत, दिल कमजोर..