रविवार, 30 सितंबर 2012

डिश :जीवन शैली और घरेलू उपचार

डिश :जीवन  शैली और घरेलू उपचार

आप काज महा काज .बिना मरे स्वर्ग नहीं मिलता ,बुजुर्गों ने ये ऐसे ही नहीं कह दिया होगा .

नियमित ऐसे व्यायाम करें जिनमें  ऑक्सीजन की खपत बढती हो -मसलन सैर करना ,तैराकी के लिए जाना ,कुलमिलाकर शरीर द्वारा ऑक्सीजन का प्रयोग सुधारना है .उम्र के अनुरूप कुछ भी करें .इससे आपकी दर्द ,जकड़न  बर्दाश्त करने का माद्दा भी बढेगा ,सहनशक्ति में भी बढ़ोतरी होगी .

शरीर को फुर्तीला रखने के लिए कुछ भी करें जो संभव हो .

अलबत्ता अपने माहिर से परामर्श ज़रूर करें कुछ भी नया शुरु करने से पहले .वह आपके संपर्क में है आपके बारे में ज्यादा जानता है .

हीटिंग पैड्स का इस्तेमाल करें असरग्रस्त हिस्से पे .

Set  the heating pad at low setting so that it is warm ,not hot, to reduce the risk of burning .

कुछ लोगों को कोल्ड पेक्स ज्यादा माफिक आते हैं वह इनका इस्तेमाल ज्यादा कर सकते हैं .

कुछ लोग बारी बारी से बदल बदल के दोनों को काम में ले सकतें हैं .

सबके लिए कोई एक रणनीति नहीं है .हरेक का  मिजाज़ फर्क होता है . 

(समाप्त )

सन्दर्भ -सामिग्री :

Diffuse idiopathic skeletal hyperostosis (DISH) - MayoClinic.com

www.mayoclinic.com/.../diffuse-idiopathic-skeletal-hyperostos...Share
Diffuse idiopathic skeletal hyperostosis (DISH) — Comprehensive overview covers symptoms, treatment and complications.

5 टिप्‍पणियां:

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

एक्टिव रहना कई समस्याओं का हल है
...अच्छी जानकारी

शालिनी कौशिक ने कहा…

nice presentation like your previous presentation .thanks

Arvind Mishra ने कहा…

और आप इसे साकार करने वाली प्रतिमूर्ति !

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

पढ़ने के बाद ही टहलने जा रहे हैं।

mahendra verma ने कहा…

आदरणीय शर्मा जी,
DISH के संबंध में इस उपयोगी आलेख श्रृंखला के लिए बहुत-बहुत आभार।