शनिवार, 22 सितंबर 2012

क्या फालिज के दौरे (पक्षाघात या स्ट्रोक ,ब्रेन अटेक ) की दवाएं स्टेन्ट से बेहतर विकल्प हैं

 क्या फालिज के दौरे (पक्षाघात या स्ट्रोक ,ब्रेन अटेक ) की दवाएं स्टेन्ट से  बेहतर विकल्प हैं

अधुनातन शोध बतलातें हैं पक्षाघात से बचाव के लिए स्ट्रोक- ड्रग्स भी उतना ही कारगर रहतीं हैं जितना कि केरोटिड आर्टरी सर्जरी के ज़रिये स्टेन्ट डालना .कई माहिरों को मुस्तैद  किया है इस रिसर्च ने और अब वह अपने उन मरीजों को बचावी चिकित्सा के बतौर केवल   दवाएं ही स्ट्रोक की देने को तत्पर है जिनमें अभी ब्रेन अटेक के लक्षण प्रगटित नहीं हुएँ हैं . 

इसी के साथ अमरीका में चिकित्सा प्राविधियाँ एवं चिकित्सा उपकरण तैयार करने वाली कम्पनियों ने एक मुहीम छेड़ दी है .प्रस्तावित किया जा रहा है कि मेडी क्लेम के तहत रूटीन में स्टेन्ट डलवाने वालों को भी इसके दायरे में लाना चाहिए .भले ये स्टेन्ट बचावी चिकित्सा के तौर पर ही फिट किये जाएं .

साफ़ साफ़ दो धड़े बन गए हैं एक में चिकित्सा युक्तियों के  निगमों के लिए लाबी करने वाले चिरकुट हैं दूसरे में स्ट्रोक के नामचीन माहिर .यदि उपकरण  निगमों की चल गई तब स्टेन्ट डलवाना एक रूटीन में आ जाएगा बचावी चिकित्सा बनके .तकरीबन एक लाख  या इससे भी ज्यादा मरीज़ लोग इसके लिए आगे आ जायेंगें .

गौर तलब है ग्रीवा धमनी(केरोटिड आर्टरी ) में रुकावट को हटाने का अब तक सबसे कामयाब विकल्प केरोटिड सर्जरी के ज़रिये स्टेन्ट  डालना ही माना जाता रहा है .इस नवीनतर शोध से उत्साहित हो वैस्कुलर मेडिसन(ब्लड वेसिल्स चिकित्सा  और ब्लड सर्कुलेसन चिकित्सा  के माहिर ) के ३८ माहिरों ने मेडिकेयर को एक खुला पत्र लिखकर दवा निगमों की  पेशकश को ठुकराने और स्टेंट्स को मेडिक्लेम कवरेज़ से बाहर ही रखने की सिफारिश की है .

ऑस्ट्रेलियाई स्नायुविक विज्ञान (न्यूरोलोजी )की माहिरा Anne L. Abbott  ने अपने अन्वेषणों के आधार पर कहा  बचावी चिकित्सा के बतौर स्टेंट्स का इस्तेमाल ज्यादातर मरीजों को कोई फायदा नहीं पहुंचा सकेगा .नाहक ही फिलवक्त तकरीबन १२५,००० अमरीकी या तो केरोटिड सर्जरी करवा रहें हैं या फिर केरोटिड स्टेंट्स  डलवा रहें हैं .जबकि ये दोनों प्रोसीज़र खासे महंगे हैं

बेशक उनके अन्वेषण हाई रिस्क ग्रुप पर आधारित न होकर उन मरीजों पर आधारित हैं जिन्हें आदिनांक न तो कोई मिनी -स्ट्रोक पड़ा है (पक्षाघात या फालिज का मामूली दौरा )और न ही अस्थाई तौर पर ही स्ट्रोक के लक्षण जिनमें  प्रगटित या मुखरित हुएँ हैं .

जिनमें लक्षण प्रगट हो जातें हैं वही तो हाईरिस्क ग्रुप है .बेशक उनके लिए इन्वेज़िव सर्जरी (एंजियोप्लास्टी और स्टेन्टइंग ) के ज्यादा सफल होने,कामयाब  रहने की संभावना रहती है .

आपकी रिसर्च के अनुसार हालिया सालों  में स्ट्रोक की दरों में गिरावट आई है खासकर उन मरीजों में जिनमें ग्रीवा धमनी (केरोटिड आर्टरी ) अवरोध तो था लेकिन ये मरीज़ बिना लक्षणों के ही रहें हैं .

और इसका सारा श्रेय  अधुनातन प्लेट -लेट -रोधी दवाओं (यथा प्लेविक्स ,Plavix),उच्च रक्त चाप रोधी दवाओं तथा कोलेस्ट्रोल मेडिसन को जाता है .बकौल आपके दवा के बरक्स सर्जरी आठ गुना ज्यादा मंहगी भी पड़ती है .

एक केरोटिड ओपरेशन की खर्ची २१,२० ० तथा केरोटिड स्टेंट प्लेसमेंट की ३३,५ ०० अमरीकी डॉलर आती है . 

चिकित्सा उपकरण  निगम(स्टेन्ट बनाने वाली बड़ी कम्पनियां ) इनका विरोध कर रहें हैं उनका  कहना है जिन मरीजों में लक्षण प्रगटित नहीं हैं उन्हें भी मेडिकेयर कवरेज़ के दायरे में लाया जाए .हम अबोट के अन्वेषणों से सहमत नहीं हैं .सुनिए क्या कहतें हैं इन दवा निगमों के एक नाम चीन प्रवक्ता :

Mark Turco ,chief medical officer of Covident's vascular business ,said there are patients who would be "at very high risk " for stroke ,"and the physician may feel uncomfortable " just giving drugs ." We need to be sure that we provide treatment options for patients ,"he said .

विमर्श और विवाद का एक और महत्वपूर्ण मुद्दा उभरा है :चिकित्सा प्रमाण /चिकित्सा साक्ष्य की भी एक मियाद एक एक्सपायरी डेट रहती है .केरोटिड इंटरवेंश्नल ट्रीट -मेंट्स के साक्ष्यों की भी मियाद निकल चुकी है कितने ही माहिर ऐसा मानते हैं .

केरोटिड आर्टरी की शुरुआत कोई पचास एक साल पहले हुई थी .१९९० के दशक तक के अध्ययनों से यह इल्म हुआ था यह प्रणाली दवाओं के बरक्स ज्यादा असरकारी बचाव /बचावी चिकित्सा है .

कोई दसेक साल से थोड़ा और पहले ही चिकित्सा उपकरण निगमों ने स्टेन्ट से माहिरों का परिचय करवाया . रिसर्चरों ने इससे  परम्परागत सर्जरी के बरक्स होने वाले अतिरिक्त लाभ की पड़ताल की .

A  2010 National Institutes of Health(NIH) -funded study found that in 2,502 patients ,there was "no significant difference "between the consolidated four -year rate of 

strokes ,deaths and heart attacks in patients with stents (7.2% had such events ) and surgery (6.8%).Many researchers  however ,point out that the 30 -day stroke 

and death rate in stent patients was significantly higher (4.8%) than that or surgery patients (2.6%). 

जिस समय यह ट्रायल चल ही रहा था उसी दरमियान स्ट्रोक को मुल्तवी रखने वाली दवाओं की कारगरता बढ़ी हुई देखी गई .नतीज़न स्ट्रोक रेट्स (आघात के प्रति हजार मामले )  गिरने लगीं .इस बाद के बदलाव पर  ऑस्ट्रेलियाई माहिरा डॉ एबाट की तवज्जो एक दम से गई .

उसे पहले यही लाभ होता हुआ ,यही अवधारणा ,यही बात अपने मरीजों में नजर आई .दस साल पहले उसे पता चला केरोटिड आर्टरी ब्लोकेज (गर्दन की धमनियों में रुकावट )के बावजूद उन्हें लाभ मिल रहा है दवाओं से .जबकि किसी समय इस अवरोध का सीधा मतलब मौत ही लगाया जाता था .



She and others in vascular medicine grew concerned that the purportedly "definitive "NIH study of stents versus surgery would not be definitive at all ,because there was no third patient group getting drugs only .

साल ईसवी सन 2009 में   डॉ .अबोट ने जर्नल "स्ट्रोक" में लिखा :वर्तमान में उपलब्ध चिकित्सा इलाज़ यानी स्ट्रोक मेडिसिन ही फिलवक्त स्ट्रोक की सर्वोत्तम बचावी चिकित्सा कही जायेगी .आपने बतलाया कि अध्ययनों  की एक पूरी रेंज में(सम्पूर्ण परास में ) सालाना स्ट्रोक की दरें १९८५ के ३.३% से गिरकर २००७ में ०.६ %पर आ गई .

गौर  तलब है यह गिरावट उस गिरावट से कहीं  ज्यादा  रही है जो ख्यात केरोटिड-सर्जरी ट्रायल में दर्ज़ हुई थी .

"Medicine has gone off in the wrong direction as far as carotid disease ,"she said.

दूसरे  भी  कई नाम -चीन फिजिशियन भी आप से सहमत हैं .

" I would be very happy if Medicare would put a moratorium on any invasive carotid treatments " in people without stroke symptoms , said Wesley S. Moore , UCLA'S (UNIVERSITY OF CALIFORNIA LOS ANGELES)chief emeritus of vascular surgery and author of a leading text on vascular and endo -vascular surgery.He was among physicians who warned Medicare in their letter that evidence for surgery and stents "is outdated."

हटी फिजिशियंस जो अभी भी केरोटिड स्टेंट्स का झंडा उठाएं हैं ,कह रहें हैं ,पुराने शोध कार्य को यूं बरतरफ नहीं करना चाहिए .त्याज्य नहीं हैं वह .खारिज न किया जा सकेगा इस तरह .

Mark  H. Wholey of Highmark Allegheny General Hospital in Pittsburg ,a stent proponent ,points out that carotid stents won broad FDA approval last year .Recent studies , he said ,"identified for good that stenting is absolutely the equivalent of carotid surgery .To be denied the option of either surgery or stenting is unreasonable."

Stent makers have joined with leading medical groups to press their case for wider Medicare payments .William A.Gray of New York-Presbyterian Hospital /Coulombia said he and Abott Labs have teamed with groups to argue that carotid  stents should be available for use in most people with carotid blockage ,including those with no symptoms .

Even the critics of stent use and surgery say a subset of symptomless patients may benefit from the procedures .Some research suggests that those patients have frequent and measurable micro -clots in the blood stream in their carotid arteries ,and stents or surgery can more effectively treat such patients .

Are  Stroke  Drugs  Better Than Stents? 


(STROKE:STOPPAGE OF BLOOD FLOW TO BRAIN IS A SUDDEN BLOCKAGE OR RUPTURE OF A BLOOD VESSEL IN THE BRAIN RESULTING IN ,e.g. loss of 

consciousness,partial loss of movement ,or loss of speech .Technical name cerebrovascular accident (brain attack ).  

Medical -Device Makers Lobby Medicare to Widen Coverage but Some Doctors Oppose More Surgeries


Unclogging Arteries 


Patients with artery blockage in the neck have two aggressive treatment options :carotid surgery or stents.But some doctors argue drug therapies have surpassed both.

CAROTID  SURGERY 

A surgeon makes a cut in the neck to reach the narrowed or blocked carotid artery ,removing the plaque.

Carotid artery is a large artery on either side of the neck that supplies blood to the head .

U.S.CAROTID SURGERIES PERFORMED ANNUALLY 109 ,000 

DEATH AND STROKE RATE Within  30 days

2.6%

DRUG THERAPIES 

Millions of Americans take drugs for stroke prevention , at fraction of the cost of surgery ,though no major studies exist of patients randomly assigned to drugs ,surgery or stents .

Monthly retail price for some drugs :   Clopidogrel (Plavix)  ,75 mg/day                        $175


Atorvastatin (Lipitor),  80 mg/day                         $150 


Hydrochlorothiazide (various brands ), 25 mg/day           $12

THE CONDITION 

The buildup of plaque or blood clots can severely narrow or block the carotid arteries ,This limits the flow of oxygen -rich blood to your brain and can cause a stroke.

Plaque is a deposit on the inner wall of an artery (coronary artery  or carotid artery).coronary artery supplies blood to the heart ,carotid to the head.

ANGIOPLASTY AND STENTING 

A thin tube with a balloon is threaded through the blocked carotid artery .The balloon is inflated to push the plaque against the wall of the artery .A stent is then inserted to hold the plaque and keep the artery open .

U.S. CAROTID STENTS ANNUALLY    16,000 

A CAROTID OPERATION IN U.S .       $21,200 

A  CAROTID STENT PLACEMENT      $33,500 

This is eight times what drug treatment would cost .

Approximate number of Americans who get carotid surgery or carotid stents yearly      125,000 .

Source :THE WALL STREET JOURNAL /Wednesday ,September 19 ,2012/ PAGES,B1,B2


carotidarterynih












  




5 टिप्‍पणियां:

Arvind Mishra ने कहा…

जानकारी पूर्ण -कभी statin के बारे में भी पाठकों को बतायें!

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

बहुत विस्तार से जानकारी दी है ...आभार

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

ज्ञानपूर्ण जानकारी..

काजल कुमार Kajal Kumar ने कहा…

अच्‍छी जानकारी है. धन्‍यवाद.

डॉ टी एस दराल ने कहा…

इन मामलों में सर्जिकल और नॉन सर्जिकल विशेषज्ञों की राय कभी एक नहीं हो सकती . यहाँ कामर्सियल एंगल भी आता है .