शुक्रवार, 26 अगस्त 2011

बहुत देर कर दी हुज़ूर आते आते ......

बहुत देर कर दी हुज़ूर आते आते -प्रधान मंत्री जी को सुना है "अन्ना जी के स्वास्थ्य की चिंता है ,लेकिन इस चिंता को ज़ाहिर करने में उन्हें पूरे दस दिन लग गए "अन्ना जी गत छ :माह से "जन लोक पाल बिल "की चर्चा कर रहें हैं ,इन दस नंबरियों के कान में तेल पड़ा हुआ है .
Braveheart Hazare baffles doctors.
Doctors have been left baffling at the tenacity of Anna Hazare to endure long periods of fast despite failing health .Although his vital parameters continue to be a cause for concern ,the 74- year old Gandhian's actually improved slightly over the previous day ,doctors said .
According to the latest medical reports ,his blood pressure was 160/90 and heart rate 82 ,nearly 10 beats above normal .The ketone levels continue to be high,as was the toxicity in his blood .Dr Naresh Trehan ,who is heading the team monitoring Anna's condition ,said ,"He is holding on ".
Anna's internal adaptation to fasting and stress is high ,which is why he is still able to sustain this .That's a miracle because other patients in similar condition are normally brought on a stretcher and aren't in control of their senses ,"said a doctor from GB Pant Hospital .
However ,the doctor said Anna's blood pressure was fluctuating and he could collapse any moment
"He may gradually lose consciousness due to high blood toxicity and lack of sugar and even go into coma
if he is not put on a drip soon ,said a doctor from GB Pant hospital ..
The doctors tried to put Anna on a drip on Tuesday night but sources said he threw them away .


.Anna addressed the gathering thrice on wednesday, saying ,"nothing will happen to me .I am fine .."
Due to dehydration ,Anna 's eyes have also dried up ."He is taking 3.4 to 4 litres of water in a day but due to the fast ,there is less water in his body ."Anna aide Kejriwal said if anything happens to Anna ,the PM will be held responsible ."We have asked the government if there is going to be police action tonight but they didn't promise anything .We won't allow them to take Anna forcibly .Doctors should decide ,not the police or the government ,'he said .
आत्म बल और जनबल ,जन ऊर्जा तमाम मेडिकल पैरामीटर्स को धता बताकर अन्ना जी की हालात को "स्टेबिल "रखे हुए है .हालाकि चिकित्सा शब्दावली में यह बहुत अच्छा फ्रेज़ /फेज़ नहीं है ,यहाँ किसी पल के आग़ोश में क्या है इसका कोई निश्चय नहीं .
मैं भी अन्ना ,तू भी अन्ना ,
देश बना इतिहास का पन्ना ,
बहुत चली आलस की पारी ,
अब तो है हर शख्स चौकन्ना ,
बहुत सुन लिए भाषण बरसों ,
अब क्या कहना और क्या सुनना ,
जिसकी लाठी उसकी भैंस ,
छल बल अब बिलकुल न चलना ,
ऐसे शासन का क्या कीजे ,
जिसमे लोकपाल भी घुन्ना .
प्रस्तुति :गुंजन शर्मा ,४३३०९ .सिल्वर वुड ड्राइव ,केंटन (मिशगन )
(बिटिया वीरुभाई )


9 टिप्‍पणियां:

सतीश सक्सेना ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
सतीश सक्सेना ने कहा…

सब कुछ अच्छा ही होगा भाई जी ...
शुभकामनायें अन्ना को !

NEELKAMAL VAISHNAW ने कहा…

वाह ! क्या लिखा है आपने सचमुच लाजावाब,बेहद खुबसूरत रचना...
आप भी यहाँ जरुर आये मुझे ख़ुशी होगी

MITRA-MADHUR
MADHUR VAANI
BINDAAS_BAATEN

Maheshwari kaneri ने कहा…

सब अच्छा ही होगा..होना भी चाहिए ये सत्य की लडा़ई है..सत्य की तो जीत होती ही है....
खुबसूरत रचना के लिए आभार.......

यादें ने कहा…

veeru bhai ram-ram !
भ्रष्टाचार के कफ़न में पहली 'कील '
ठुकने को तैयार है ,हाथ में हथोडी थाम
के रखें |
शुभकामनायें!

रेखा ने कहा…

अन्नाजी को भगवान सलामत रखे ......और हमसब जो चाहतें है वो हो जाए

दीपक बाबा ने कहा…

अन्नाजी को भगवान सलामत रखे

G.N.SHAW ने कहा…

भाई साहब जो भी अन्ना कमजोर होते जा रहे है ! ये सरकार वाले इफ्तार पार्टी और मक्खन में मशगुल ,कैसी विडम्बना है ! भगवान अन्ना को सलामत रखे !

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

अन्त भला ही होगा।