मंगलवार, 23 अगस्त 2011

इफ्तियार पार्टी का पुण्य लूटना चाहती है रक्त रंगी सरकार .

जिस व्यक्ति ने आजीवन उतना ही अन्न -वस्त्र ग्रहण किया है जितना की शरीर को चलाये रखने के लिए ज़रूरी है उसकी चर्बी पिघलाने के हालात पैदा कर दिए हैं इस "कथित नरेगा चलाने वाली खून चुस्सू सरकार" ने जो गरीब किसानों की उपजाऊ ज़मीन छीनकर "सेज "बिछ्वाती है अमीरों की ,और ऐसी भ्रष्ट व्यवस्था जिसने खड़ी कर ली है जो गरीबों का शोषण करके चर्बी चढ़ाए हुए है .वही चर्बी -नुमा सरकार अब हमारे ही मुसलमान भाइयों को इफ्तियार पार्टी देकर ,इफ्तियार का पुण्य भी लूटना चाहती है ।
अब यह सोचना हमारे मुस्लिम भाइयों को है वह इस पार्टी को क़ुबूल करें या रद्द करें .उन्हें इस विषय पर विचार ज़रूर करना चाहिए .भारत देश का वह एक महत्वपूर्ण अंग हैं ,वाइटल ओर्गेंन हैं .

3 टिप्‍पणियां:

अभिषेक मिश्र ने कहा…

महत्वपूर्ण आह्वान है आपका.

यादें ने कहा…

भारतीय मुस्लिम भाई इस पार्टी का बहिष्कार करेंगें वीरू भाई जी ........... राम-राम!
शुभ हो !

Maheshwari kaneri ने कहा…

महत्वपूर्ण आह्वान.....