मंगलवार, 21 अगस्त 2012

सशक्त (तगड़ा )और तंदरुस्त परिवार रहिए

सशक्त (तगड़ा )और तंदरुस्त परिवार रहिए 

A  Healthier Family 

Chiropractic ......Bringing out the best in you .

Spinal health is important for proper internal function.

जब ओवर दी काउंटर, मेडीसिन मिल जाय |
उदर-  शूल की फ़िक्र क्या, देता तुरत मिटाय |
देता तुरत मिटाय, मिटाता जाए काया |
बचपन की वह चोट, आज तक अति तड़पाया |
काइरोप्रेक्टर जांच, रीढ़ संरेखण बिगड़ा |
लगे इसी की आंच, लगा फिर झटका तगड़ा ||कुंडलीकार -भाई रविकर फैजाबादी .

Is Your Family At Risk ?

ये एक ऐसी कथा -वृत्तांत है जो आपको दसियों लाख तरीके से सुनाई जाती है .जैसे -जैसे आप इस कथा को पढ़ते हुए आगे बढ़ते जायेंगे ,सोचेंगे ज़रूर मैं इन बच्चों में से कौन सा हूँ ?

टॉम ,डिक या हैरी ?

क्या हुआ था टॉम को जानना चाहेंगे ?

तीन पहिया साइकिल अपनी पूरी ताकत झोंक कर चला रहे थे साहब संतुलन बिगड़ा तिपहिया एक तरफ लुढ़क गई मय टॉम के .झटपट उठा ,अरे किसी ने देखा तो नहीं और फिर से जुट गया तिपहिया पे .

अब टौमी को क्या पता इतने में ही उसकी रीढ़ का विरूपण हो गया ,मिसएलाइन हो गई रीढ़ (मेरु दंड ,स्पाइन ),सिर्फ २४ में से एक हड्डी के अपनी परस्पर सीध खो देने से ,साथ ही दब गई बे -तहाशा एक ऐसी नस (स्नायु या तंत्रिका ,नर्व ) जो मानसिक स्पन्द दिमाग से आमाशय (स्टमक ,पेट ,उदर )तक पहुंचाती है .इस रीढ़ की किसी भी चुबीस हड्डियों में से एक   हड्डी के बाकी के साथ संरेखण खो देने ,मिसएलाइन हो जाने को कहतें हैं Vetebral subluxation संक्षेप  में VS  (रीढ़ सम्बन्धी विरूपण या विसंरेखन ,रीढ़ सम्बन्धी विचलन ).

अकसर एक से कहीं ज्यादा नसें (तंत्रिकाएं ,नर्व्ज़) शामिल हो जातीं है जटिलता लिए इस मिसएलाइनमेंट में ,लेकिन सारल्य के लिए हम यहाँ उदर का ही सहारा ले रहें हैं .उदर की ही बात करतें हैं .

A Subluxation 

इस छोटी सी घटना के कुछ ही दिनों बाद टॉम अपनी माँ से उदर शूल (पेट दर्द )की अकसर शिकायत करता .माँ ने वही सोचा जो तकरीबन हरेक माँ इन मौकों पे सोच जाती है टॉम एक बढ़ता विकसता तंदरुस्त बच्चा है ,पेट दर्द का क्या है चला जाएगा ,बच्चों को ऐसा तो छोटा मोटा कष्ट होता ही रहता है .बहुत हुआ तो ऐसे अवसरों पर कई माताएं हींग गर्म करके गुनगुने पानी से फंकी लगवा देतीं हैं या फिर कोई चूरन वूरन,(हिन्गासटिक ,कायम या फिर त्रिफला सा कुछ और ) दे देतीं हैं अगले दिन बच्चा प्रकट तय : नीरोग ही नजर भी आता है .

लेकिन जैसे -जैसे टॉम बड़ा होता गया उसे पता चला कुछ खाद्य उसके पेट पे भारी पडतें हैं ,उसे माफिक नहीं आते यथा पत्ते वाली तरकारियाँ जिनमें रफेज़ (बहुत कुछ ऐसा होता है जो दांतों में फंसता है )ज्यादा होता है ,चरपरा मसाले दार खाना ,पीजा (अधिक नमक और चिकनाई सना ,चीज़ से लदा ,सना कुछ भी ).
  
वह कहता मैं तो भैया इन चीज़ों को पसंद करता हूँ लेकिन इन चीज़ों की मेरे बारे में राय कुछ और है .मैं इनकी पसंद नहीं हूँ .

अब वह नियमित बिना नुसखे के मिलने वाली ओवर दी काउंटर ड्रग्स खाने लगा (Maalox,Pepto-Bismol ,Alka-Seltzer ,Bromo Seltzer ,Rolaids आदि ,सभी व्यावसायिक नाम हैं ये ).

नुसखा दिखाके मिलने वाली प्रेस्क्रिप्शन ड्रग्स 

और बड़े होते हुए टॉम के लिए सहज सुलभ ओवर दी काउंटर ड्रग्स नाकारा सिद्ध होने लगीं .बे -असर साबित होने लगीं .अब वह अपने पारिवारिक चिकित्सक के पास जाने लगा वह उसे ज्यादा असरकारी ज्यादा पोटेंसी की दवाएं देने लगा .इन तमाम प्रेस्क्रिप्शन ड्रग्स के अपने पार्श्व प्रभाव होतें हैं .टॉम को भी भुगतने पड़े .

कालान्तर में उसे पता चला उसके पेट में अल्सर है .किसी समय ला -परवाही के चलते ओपरेशन की भी नौबत आसकती है ,उसे चेताया गया .अब उसे अपने खाने पीने के प्रति खबरदार रहना है ता -उम्र .

टॉम अकेला नहीं हैं आपके आसपास ऐसे कई और टॉम भी होंगें .ज़रूरी नहीं है सबको पेट का अल्सर ही हो कोई दमे का तो कोई श्वसनी शोथ का ,आर्थ्राइतिस ,कब्जी ,अनिद्रा रोग ,बेहद की  थकान या फिर सिर दर्द ,कमर दर्द का शिकार भी हो सकता है .आपके आसपास दिखने वाली सैंकड़ों बीमारियों में से किसी का भी .

कितने ही टॉम हैं जो दवाओं पे पल रहें हैं ,चल रहें हैं .दर्द और पीड़ा के चंगुल में ही फंसे रहतें हैं .कभी हारी तो कभी बीमारी इनके जी का जंजाल बनी रहतीं हैं .तो कभी दवाओं के अवांछित परिणाम पीछा नहीं छोड़ते .

तिपहिया से गिरने के बाद टॉम ने फिर कभी खुद को तंदरुस्त महसूस नहीं किया .

दूसरी कहानी डिक की है ,क्या हुआ था डिक को ?

दुस्साहसी बालक था यह भी .साइकिल पे स्टंट (करतब )दिखाने का शौक़ीन (आजकल तो रिवाज़ क्या पेशा भी बन रहा है ,टी वी पे छोटे बड़े सभी स्टंट कर रहें हैं ) .फिर एक दिन वही हुआ जो अकसर इन बालकों के साथ हो जाता है .

धडाम से गिरा कपडे सब फट गए धूल झाडी और भागा ,चिंता चोट की नहीं थी घर जाके फटकारे जाने की थी नै कमीज़ की थी .

इसका हश्र भी टॉम सरीखा ही हुआ .पेट ही असर ग्रस्त हुआ इसका भी .

इसे भी कोई भनक न पड़ी अपने subluxations से ग्रस्त हो जाने की .इसे भी पेट की शिकायतें रहने लगीं .वही धारावाहिक सिलसिला चल निकला ओवर दी काउंटर ड्रग्स का कुछ चीज़ों के माफिक न आने का .

एक दोस्त ने उसे परामर्श दिया -"यार काइरोप्रेक्टर !वह तो कमर दर्द का माहिर होता है .लेकिन उसने आजमाने में कोई बुराई न समझी काइरोप्रेक्टिक चिकित्सा को .

Can You Cure Me ?

काइरोप्रेक्टर से उसका पहला सवाल यही था क्या आप मेरे पेट की शिकायतें ठीक कर सकतें हैं ?

 काइरोप्रेक्टर  ने उसे पूरी निष्ठा और ईमानदारी से यही बतलाया -हम बीमारियों का इलाज़ नहीं करतें हैं .हम पता लगातें हैं VS का और पता लगने पर हम इनके निवारण का भरसक  प्रयत्न करतें हैं . इनके निवारण के बाद काया की दुरुस्ती शुरू हो जाती है . 

अब कायरोप्रेक्टर इतनी इत्तला देने के बाद डिक की रीढ़ की बारीक जांच करता है उसे एक subluxation का पता चलता है जो तब से चला आरहा था जब डिक एक बालक ही था .वह समायोजन करता है और रीढ़ अपना सही संरेखण दोबारा हासिल कर लेती है .रीएलाइन हो जाती है .

'"Dick ,I  want to see you again soon to make sure your vertebra stays in position and does not resubluxate .In the beginning ,the area may be a little unstable and there may be a tendency to misalign," says his chiropractor .

डिक के गले बात उतरती है वह काइरोप्रेक्टिक केयर लेता है और देखते ही देखते उसे Maalox और Alka-Seltzer से छुटकारा मिल जाता है .वह घोड़े बेचके सोने लगता है और दिन भर खुद को एनर्जेटिक महसूस करता है .वह टॉम की नियति को प्राप्त नहीं होता .सामान्य जीवन चलने लगता है अपनी ढाल .

हेरी को क्या हुआ होगा इस कहानी में ?

तिपहिया साइकिल से वह भी बचपन में गिरा था .लेकिन वह उस परिवार से ताल्लुक रखता था जो नियमित काइरोप्रेक्टिक हेल्थ मेंटेन किए रहता था .काइरोप्रेक्टिक प्रेक्टिस में उसका शुरु से ही भरोसा था .

Health Maintenance Family Care 

लिहाजा हेरी के चोटिल   होने के फ़ौरन बाद उसे काइरोप्रेक्टिक केयर अविलम्ब मिल गई .उसकी  नियमित काइरोप्रेक्टिक जांच होने लगी .यहाँ काइरोप्रेक्टिक के पास जाना एक तरह का हेल्थ बीमा समझा जाता था .परिवार के सभी सदस्य नियमित जांच के लिए जाते थे वक्त ज़रुरत के मुताबिक़ .

Everybody goes ,it's a family event -true health insurance that keeps their bodies working with healthy spinal columns ,free from the vertebral subluxations that impinge on nerves and disrupt the flow of messages and energy from the brain to the body ."After all"says Harry's mother ,"we go to the dentist to have our teeth checked ,why not go to have our spines checked too ?"

नियमित काइरोप्रेक्टिक देखभाल 

हेरी के पिता कहतें हैं क्योंकि हमारा परिवार शुरु से ही इस जांच में यकीन रखता आया है हम सब लोग स्वस्थ जीवन जी रहें हैं .हम लोग दिन भर ऊर्जित रहतें हैं भर पूर नींद लेतें हैं .मेरी पत्नी को अब सिर दर्द नहीं रहता है .पहले सिर दर्द से वह खासी आजिज़ रहतीं थीं .अब न बच्चों को जल्दी जल्दी ठंड लगती है न स्कूल मिस करना पड़ता है .ध्यान भी अब उनका पहले से बेहतर लगता है चीज़ों में ,अटेंशन स्पेन बढा है .

The Chiropractor Checks Harry's Spine 

"Well ,Harry ,what we have here ? A subluxation !What happened ,more daredevil stunts on your bike ?Here ,let's fix you up ."The chiropractor uses the art of spinal adjustment to easily and painlessly correct little Harry's vertebral subluxation.Harry will never know how truly lucky he is .

There are many Tom ,Dick  and Harrys (and Harriets) living in our homes .Please bring them in for a chiropractic checkup.Why wait untill there  is a problem before doing somethiing for you or your child's health?

सारांश 

subluxations की चपेट में आने पर दिमाग से काया को चलने वाले मानसिक स्पंद और ऊर्जा शरीर के असर ग्रस्त भाग तक पहुँच ही नहीं पाते इसी लिए वह अंग बीमार बना रहता है .इसका असर पूरी काया पर हमारी सेहत पर पड़ता है .VS के साथ जीना एक अभिशाप है इनसे मुक्ति एक वरदान .काइरोप्रेक्टिक जांच को व्यापक मेडिकल चेकअप का एक अपरिहार्य अंग बनाइये .तगड़े तंदरुस्त रहिए एक परिवार के रूप में . 

6 टिप्‍पणियां:

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

इस पक्ष की ओर भी ध्यान देना प्रारम्भ करें चिकित्सक..

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

अच्छा है आप ऐसी जानकारी हम तक पहुंचा रहे हैं

dheerendra ने कहा…

नित नई स्वस्थ रहने की जानकारी देने के लिए,,आभार,,

RECENT POST ...: जिला अनुपपुर अपना,,,

Sanju ने कहा…

nice presentation....
Aabhar!
Mere blog pr padhare.

जाटदेवता संदीप पवाँर ने कहा…

आप की दी गई प्रत्येक जानकारी अमूल्य होती है।

Anita ने कहा…

सारा खेल ऊर्जा का ही है, उपयोगी जानकारी, वीरू भाई से वीरेंद्र कुमार होने की भी बधाई !