सोमवार, 15 अप्रैल 2013

Why no one can eat just one chip ?

आलू चिप्स (आलू चिप्पड़ )आपने एक बार खाने शुरू किये तो आप खाते ही चले जाते हैं .(यह वैसे ही है जैसे पहली सिगरेट सुलगाते ही आप इसके आदी (लती )होते चले जाते हैं .आखिर क्या है इस उत्प्रेरण की वजह ?

सुख भोग के लिए  न की क्षुधा शान्ति के लिए  खाते चले जाने के लिए रिसर्चर Tobias Hoch एक पारिभाषिक शब्द प्रयोग करते हैं -"hedonic hyperphagia"यहाँ हाइपरफेजिया का अर्थ है अतिशय भक्षण और हेडोनिक  का  अर्थ  है - सुख भोग विषयक .

दरअसल इस प्रकार की खाद्य सामिग्री में चिकनाई (फैट )और चीनी (कार्ब्स )का अनुपात उच्चतर रहता है .यही मस्तिष्क के प्लेज़र सेंटर को एक सन्देश भेजता है सुख भोग का .और बस आप एक बार शुरू करते हैं तो पूरा पेकिट ही गड़प कर जाते हैं .

आरोग्य प्रहरी 


(१)Weight training is helpful for diabetics since it helps the muscles utilise more sugar.

(२ )स्ट्रेस के नकारात्मक हानिकर प्रभावों को बेअसर कर सकतें हैं ऐसे खाद्य जो ओमेगा -३ वसीय अम्लों से भर पूर हैं यथा अखरोट .

Omega three fatty acids come in more than one form .The types found in fish called ADA and EPA,have been studied 

most extensively and appear to have the strongest health benefits .Another form known as ALA is found in 

vegetable oils ,flaxseeds,walnuts and dark leafy vegetables such as spinach .

The body converts a small amount of ALA into EPA and DHA .ALA may also have some health benefits of its own.



ग्रेट नोदरन बीन्स ,सारडाइन्स , सामन,ट्यूना ,कोड, मेक्रील ,हेलिबट,शार्क आदि   मच्छी ,सोया और किडनी बीन्स 

,नेवी बीन्स फलियाँ भी इनकी कुछ मात्रा लिए रहतीं हैं .

But eating fish has become more of a health concern. Many fish with high levels of omega-3 fatty acids caught in the wild also have high levels of mercury and other environmental pollutants. Research on farm-raised salmon (the most popular farm-raised fish) found that it had higher levels of toxins (other than mercury) than fish caught in the wild. The levels of toxins in other types of wild fish compared to those in farm-raised fish aren't known. Some waters are probably safer than others for wild fish, and some farms are likely to be more health-conscious than others. For now, experts recommend varying the type of fish you eat to reduce the risk of eating too many contaminants. They also recommend eating wild-caught fish about twice a week and farm-raised salmon only about once a month.

(३)दूध ऐसे गुणों को लिए हुए है जो हाई ब्लड प्रेशर को कम करते हैं तथा ब्रेन अटेक (स्ट्रोक )के खतरे को भी कम करते  हैं .

(४)किडनी बीन्स में मौजूद विटामिन K हमारे दिमाग और पूरे स्नायुविक तंत्र की सेहत के लिए अच्छा है .

(५ )TOO MUCH TEXTING CAN MAKE YOU SHALLOW :STUDY

Researchers from the University of Winnipeg in Canada found that teens who texed more than 100 times a day were 3 0 per cent less likely to feel strongly that leading an ethical ,principled life was important to them , in comparison to those who texed 50 times or less a day .



Images for texting

 - Report images



Images for kidney beans in

 - Report images


4 टिप्‍पणियां:

Aziz Jaunpuri ने कहा…

सर जी ,मस्तिष्क के प्लेज़र सेंटर से जुड़े सन्देश और ओमेगा ३ से जुड़े स्वस्थ के अनेक पक्षों को बखूबी प्रस्तुत करी सुन्दर पोस्ट

Madan Mohan Saxena ने कहा…

अर्थपूर्ण,सार्थक‍ अभिव्यक्ति.

SM ने कहा…

why cant eat one
nice article

Asha Saxena ने कहा…

महत्वपूर्ण जानकारी दी है |
आशा