शनिवार, 20 अप्रैल 2013

'Hookah not a harmless alternative to cigrettes'

Smoking tobacco through a Hookah ,popular mostly among the college crowd ,is not a harmless alternative to cigarettes ,scientists warn .In a new study by University of California ,San Francisco ,researchers measuring chemicals in the blood and urine concluded that hookah smoke contains a different -but still harmful -mix of toxins .Peyton Jacob III ,a UCSF research chemist ,and Neal Benowitz  , a UCSF tobacco researcher said hookah use exposes smokers to higher levels of carbon monoxide ,especially hazardous to those with heart or respiratory conditions ,and to higher levels of benzene ,long associated with leukaemia.

हुक्का बार एक नया ट्रेंड बन चला है छात्रों में .लेकिन यह सिगरेट स्मोकिंग का सुरक्षित विकल्प नहीं है .केलिफोर्निया विश्वविद्यालय ,सैन -फ्रांसिसको कैम्पस के साइंसदानों द्वारा किये गए एक नवीन अध्ययन     में साइंसदानों ने हुक्का सेवियों के रक्त और मूत्र में मौजूद रसायनों की जांच माप के बाद बतलाया है ,इनमें जुदा किस्म का विष का मिश्र मौजूद है .

जो लोग हुक्का सेवी हैं वह ज्यादा कार्बनमोनोऑक्साइड गैस का अपने अनजाने ही सेवन कर लेते हैं .दिल और श्वसन सम्बन्धी समस्याओं से ग्रस्त लोगों के लिए हुक्के का सेवन बेहद का खतरनाक साबित होता है .अलावा इसके हुक्के के धुएं में बेंजीन का स्तर बढ़ा हुआ  रहता है जिसका रक्त कैंसर से सम्बन्ध जोड़ा जाता रहा है .

3 टिप्‍पणियां:

Vikesh Badola ने कहा…

हुक्‍का गुड़गुड़ाना भी बन्‍द करवाएंगे आप जहां कहीं भी थोड़ा बहुत बचा हुआ है।

पुरुषोत्तम पाण्डेय ने कहा…

तम्बाकू के दुष्प्रभाव पर आधारित मेरी एक रचना 'अन्दर की बात' ३१ आगत २०११ को ब्लॉग 'जाले'पर प्रकाशित हुई थी जिसे आज मैंने अपने फेसबुक पर पुन: डाला है.
हुक्के के पानी में से छन कर आने से धुंवे में से निकोटीन कम हो जाता है.

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

जहर तो जहर ही है फ़िर वो किसी भी रूप में क्यों ना हो. सुंदर जानकारी.

रामराम.