शनिवार, 9 मार्च 2013

सेहतनामा :SHORT BOUTS OF EXERCISE CAN BOOST SELF CONTROL

सेहतनामा 

(१)Tying your hair too tight can trigger  headache.Go easy with that rubberband.

(२  )बदलते मौसम के इस दौर में बारहा लाइफ़बॉय साबुन से हाथ धोते रहने से ही  विषाणु से पैदा होने वाले

आम संक्रमणों से काफी हद तक बचा जा सकता है .

(३ )SHORT BOUTS OF EXERCISE CAN BOOST SELF CONTROL

Increased blood and oxygen flow to the pre frontal area of the brain during short bouts of exercise can help boost self control ,according to a new study and it might be a useful treatment for conditions such as attention hyperactivity deficit disorder (ADHD)and autism.

(4)Bananas have a natural antacid effect ,if you suffer from heartburn ,eat one for relief.

केला  कुदरती तौर पर अम्ल रोधी गुण लिए है  .अम्ल शूल होने पर ,अपच के कारण छाती में जलन होने पर केला खाइये .

(५)बादाम में मौजूद एकल -संतृप्त वसा ,प्रोटीन और पोटैशियम दिल के लिए मुफीद (अच्छे )रहतें हैं .

(६ )ALZHEIMER'S DETECTED 15 YEARS BEFORE FIRST SYMPTOM

Researchers from the Autism Hospital in Melbourne tracked the build up of a waste protein called amyloid ,discovering levels that can be detected accumulating in the brains of those who go on to suffer dementia, 15 years before they suffer extensive memory loss.

बुढ़ापे  के इस तंत्रिका अपविकासी (neuro degenerative disease)रोग में सारे फसाद की जड़ यह amyloid प्रोटीन ही है समय पूर्व इसके बनने को ताड़ के दिमाग में इसके स्तर का पता लगा लेना रोग के बढ़ने से पहले बचावी उपाय करने का मौक़ा तो देता ही है .ज़ाहिर है याददाश्त क्षय को कमोबेश मुल्तवी तो रखा ही जा सकेगा .

(७ )संशाधित गोश्त कैंसर रोग समूह और दिल की बीमारी के खतरों को बढाता है

Sausages ,bacon tied to early deaths ?Processed Meats Raise The Risk Of Cancer And Heart Disease ,Says Study(THE TIMES OF INDIA ,MUMBAI ,MARCH 8 ,2013 ,P19)

अलावा इसके लम्बी पतली शक्ल में बना मसालेदार गोश्त जिसका छोटा टुकड़ा ठंडा खाया जाता है और पूरा टुकडा पका कर गर्म (सासिज़ )जिसे एक तरह का मांस का कवाब गुलमा या लंगोचा भी कहा जाता है तथा सूअर की पीठ या बगल का नमक लगा या भुना हुआ गोश्त(बेकन ) रोज़ रोज़ खाना भी अब समय पूर्व मृत्यु की वजह बन रहा है .शक की सुई दोनों की और पूरी घूम चुकी है .

कुसूरवार फल ,मांस या सब्जियों से भरी गर्म पेस्ट्री(Meat Pie ) को भी ठहराया जा रहा है .

एक लार्ज -स्केल (व्यापक )अध्ययन से पता चला है समय पूर्व ३ ० में से एक मौत की वजह सशाधित मांस का सेवन बन रहा है .

European Prospective Investigation into Cancer and Nutrition (EPIC ) नामक इस अध्ययन में १ ० देशों तथा योरोप के २ ३ केन्द्रों से  कुल तकरीबन पांच लाख लोग शरीक रहे हैं .पता चला खतरे का वजन व्यक्ति द्वारा  खाए गए गोश्त की मात्रा  के अनुरूप बढ़ता जाता है .रोजाना केवल एक गुलमा या लंगोचा(sausage ) खाना भी सेहत पर खराब असर डालता है .

The researchers say that salting ,curing and smoking of meat gives rise to carcinogens like nitrosamines ,and  these may be the cause of the increased cancer mortality .

मांस और मच्छी  की भंडारण अवधि (परिरक्षण )और स्वाद बढ़ाने  के लिए इसे जायकेदार बनाने के लिए इसमें नमक नाइटरेट्स , नाइटराइट्स  और शुगर मिलाई जाती है .यही क्योरिंग हैं अलबत्ता कई मर्तबा स्वाद्वर्धक भी मिलाये जाते हैं इन्हें पकाया भी जाता है ,स्मोकिग भी क्योरिंग के तहत की जाती है .इन खाद्यों का निर्जलीकरण करना(Dehydrating them ) परिरक्षण का अर्वाचीन तरीका  रहा है .




ताज़ा अध्ययन से यह साफ़ नतीजा निकला है ,जो लोग रोजाना ४ ० ग्राम से ज्यादा संशाधित या किसी और किस्म का गोश्त भी खाते हैं उनके लिए समय पूर्व मृत्यु का ख़तरा बढ़ जाता है .

अमूमन जिनकी खुराक में संशाधित गोश्त ज्यादा जगह बनाए रहता है वह अन्य खाद्यों के मामले में भी अस्वास्थ्यकर चीज़ों की और प्रवृत्त दिखलाई देते  हैं .जो औरत -मर्द ज्यादा संशाधित गोश्त खाते हैं उनकी खुराक में फल और तरकारियों की भी मात्रा कमतर दिखलाई देती है .धूम्रपान भी ये लोग अक्सर ज्यादा करते पाए जाते हैं .न भी करते हों तो इसकी ज्यादा  संभावना मौजूद रहती है .शराब का सेवन भी ये लोग अपेक्षाकृत ज्यादा करते हैं .

दूसरी तरफ शाकाहारी अपेक्षाकृत बढ़िया जीवन शैली बनाए रहते हैं .कसरत  ज्यादा करते हैं धूम्र पान  कम करते हैं .

गत वर्ष विश्वकैंसर शोध कोष से सम्बद्ध  एक २ १ सदस्यीय पैनल ने   कोई ७ , ० ० ० अध्ययनों के जो गत चालीस सालों में संपन्न हुए थे पड़ताल की ताकि जीवन शैली और कैंसर रोग समूह के बीच संभावित अंतर सम्बन्ध की व्यापक पड़ताल की जा सके .

The panel's report -Food ,Nutrition ,Physical Activity and the Prevention of Cancer -made some crucial recommendations .

पेनल ने साफ़ बतलाया -एबडोमीनल ओबीसिटी ,वेस्ट लाइन के गिर्द (कटि प्रदेश ,कमर बंध के गिर्द अतिरिक्त चर्बी का चढ़ना )भोजननली  ,अग्नाशय ,बड़ी आंत के मुख्य और सबसे लम्बे भाग ,गुर्दा और गर्भाशय  कैंसर समूह के खतरे को तो बढ़ाता  ही है .रजोनिवृत्त महिलाओं में स्तन कैंसर समूह रोगों को भी हवा देता है .

Images for processed meat images

 - Report images
  • 19 hours ago
  •  
  • 1 day ago
  •  
  • 23 hours ago
  •  
  • 1 day ago
  •  
  •  
  • 12 hours ago
  •  
  •  
  • 8 hours ago
  •  
  •  
  •  
  • 12 hours ago
  •  
  •  
  • 1 day ago
  •  

Images for images of processed meat and fish

 - Report images
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1 day ago
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


11 टिप्‍पणियां:

Rajendra Kumar ने कहा…

बहुत ही उपयोगी जानकारी,मांस तो हर हालत में हानिकारक ही है.

Aziz Jaunpuri ने कहा…

सर जी ,छोटे छोटे टिप्स देकर आप ने
गागर में सागर भर दिया ,बहुत खूब
सर जी ,(नव वामा मृगनयनी
सी),आप की
प्रतीक्षा रत है
,टिप्पणिओं से नवाज़े सादर

रविकर ने कहा…

अच्छे सुझाव-
शुभकामनायें आदरणीय-

Kalipad "Prasad" ने कहा…


गागर में सागर भरकर लाते हैं आप
दूर करने जीवन के हर दुःख दर्द "आभार"

latest postमहाशिव रात्रि
latest postअहम् का गुलाम (भाग एक )

पुरुषोत्तम पाण्डेय ने कहा…

आपके सभी सेहत सम्बन्धी लेख संग्रहणीय होते है. उसी क्रम में ये आज कालिख भी अद्भुत है. बहुत साधुवाद है.

शिवनाथ कुमार ने कहा…

महत्वपूर्ण जानकारी
सादर आभार !

Anita (अनिता) ने कहा…

सभी सुझाव बढ़िया!
Alzheimer Detection के बारे में बहुत उपयोगी जानकारी!
~सादर!!!

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

व्यायाम करना होगा, थोड़ा ही सही।

SM ने कहा…

बहुत ही उपयोगी जानकारी

रचना दीक्षित ने कहा…

बहुत ही उपयोगी जानकारी. आप लगातार सुंदर जानकारी देकर हम सब का ज्ञान वर्धन करते है यह बहुत पुन्य का काम है.

महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएँ.

दिगम्बर नासवा ने कहा…

उपयोगी जानकारी ... सुझाव अच्छे हैं सभी ... बचाव में हो फायदा है ...
राम राम जी ...