मंगलवार, 9 अक्तूबर 2012

पूरा विश्व मानता है


      पूरा विश्व मानता है 

   अशोक गहलोत जी ने अभी हाल में अपने एक वक्तव्य में एक टी वी चैनल के सामने अपने ये उदगार व्यक्त किए -



पूरा देश मानता है राहुल गाँधी में प्रधान मंत्री बनने के तमाम गुण हैं ,विपक्ष भी मानता है यह बात .माननीय  अशोक गहलोत साहब ने यह कहके अपना शील और संकोच ही दिखाया है वरना कहना वह यह चाहते थे पूरा विश्व भी यह मानता है कि राहुल गांधी जी में प्रधानमन्त्री बनने के सारे गुण मौजूद हैं .

एक शैर नजर है ज़नाब अशोक गहलोत साहब के लिए -

गोर में मुर्दा पड़ा ,हूर की सूझी ,

अंधे को अँधेरे में, बहुत दूर की सूझी .

गोर का मतलब होता है गुफा ,गड्ढा ,सांप की बिल ,दफ़्न के लिए   जगह को गोर कहतें हैं .मुर्दा पड़ा है गोर में और देखी अरमान ..... 

3 टिप्‍पणियां:

शालिनी कौशिक ने कहा…

बहुत खूबसूरती से आपने सच्चाई को शब्दों के घेरे में लिया है .

Aziz Jaunpuri ने कहा…

ram ram bhai,badi paini nazr hai,aap khul ke kah to rahe hai....

देवेन्द्र पाण्डेय ने कहा…

वाह! क्या शेर ढूँढा है आपने!