बुधवार, 10 अक्तूबर 2012

वाड्रा गीत

 वाड्रा गीत


      सबसे प्यारा देश हमारा ,

घोटालों में सबसे न्यारा ,

आओ प्यारे बच्चों आओ ,

घोटालों पर बलि बलि जाओ .

एक साथ सब मिलकर गाओ ,

इटली का दामाद हमारा ,

हमको है प्राणों से प्यारा ,

कांग्रेस का राजदुलारा ..

घोटालों से हिंद हमारा .

घोटाला प्रिय देश हमारा ,

दुनिया में है सबसे न्यारा .

इटली का दामाद हमारा ,

हमको है प्राणों से प्यारा .

झंडा गीत गणेशशंकर विद्यार्थी ने स्व .श्याम लाल पार्षद   साहब से समय सीमा देके लिखवाया था .हमसे भी यह घोटाला गीत किसी ने लिखवाया है .और वह है जन जन 

की आवाज़ .जनता और तो कुछ कर नहीं सकती निराश होकर गीत ही गा रही है .

5 टिप्‍पणियां:

musafir ने कहा…

बहुत सही लिखा है आपने यही हो रहा है देश में.
राजनीति में नैतिकता ख़त्म हो चुकी है.

संदीप पवाँर (जाटदेवता) ने कहा…

ये खांग्रेसी रिश्तेदार भी इनकी तरह देश खाये जा रहे है, अगर लोग सुधर जाये और इन्हे वोट देनी बन्द कर दे तो अब भी समय है सब सही हो जायेगा।

Arvind Mishra ने कहा…

भंडाफोड़ गीत है यह स्वर्गीय श्यामलाल पार्षद जी से क्षमा याचना के साथ

Virendra Kumar Sharma ने कहा…

अरविन्द जी ,शुक्रिया हमें पार्षद साहब का पूरा नाम याद नहीं आ रहा था .बचपन में झंडा गीत बच्चे बच्चे की जुबां पे था .हमने भी खूब गाया था -झंडा

ऊंचा रहे हमारा ,विजयी विश्व तिरंगा प्यारा ,आओ प्यारे वीरों आओ देश धर्म पे बलि बलि जाओ ......

Virendra Kumar Sharma ने कहा…

अरविन्द जी ,शुक्रिया हमें पार्षद साहब का पूरा नाम याद नहीं आ रहा था .बचपन में झंडा गीत बच्चे बच्चे की जुबां पे था .हमने भी खूब गाया था -झंडा

ऊंचा रहे हमारा ,विजयी विश्व तिरंगा प्यारा ,आओ प्यारे वीरों आओ देश धर्म पे बलि बलि जाओ ......