बुधवार, 20 जून 2012

ये है मेरा इंडिया

ये है मेरा इंडिया 

गत दस सालों में भारत का बाज़ार ही नहीं बदला है भारत दूसरे देशों में भी बाज़ार तलाश रहा है .अनेक मामलों में भारत आलमी राजधानी बना   हुआ है जैसे मधुमेह रोग के मामलों को लेकर इसमें होने वाली बे तहाशा वृद्धि को लेकर .जल्दी ही इस लिस्ट में मोटापा भी शरीक होने जा रहा है .संदूषित जल से पैदा होने वाले  रोग तो हैं ही.कई कैंसर रोग समूह में भी भारत अग्रणी है . 

बेशक फिलवक्त कुल प्रामाणिक आंकड़ों के अनुसार ८% भारतीय ही सब रोगों कें पितामह मोटापे की चपेट में है .अमरीका के २५ %के बरक्स  बेशक यह आज नगण्य लगता है लेकिन हर साल इसमें १३ % इजाफा हो रहा है .शहरों में स्थिति और भी खराब है .

हर पांचवां मर्द और हर छटी शहरी महिला आज इसकी चपेट में है .इस रफ़्तार से जल्दी ही भारत ओबेसिटी की भी भू -मंडलीय राजधानी बन सकता है .बाज़ार ने न सिर्फ हमारी रसोई को बे -दखल किया है शहरों में जीवन शैली को भी बदल डाला है .

कड़क मक्का की रोटी और सरसों का साग ,माँ की पारंपरिक दाळ और सुर्ख तंदूरी रोटी गेंहू की आज अपना रूप विधान बदल चुकी है .चीज़ की ड्रेसिंग नमकीन मख्खन का तडका तारी है इन पर .रोटी गंदुम गेंहुआ से छिटक कर सफ़ेद हो गई है .भरमा नान कल्चर है आज सफ़ेद मैदा की .चाहे वह गार्लिक नान का जादू हो या डोमिनोज पीजा का .चीज़ की बहार है हर तरफ .'सब -वे' में भी चीज़ फायदे को बे -फायदा बना रहा है .

बाज़ार में आज मोटापा कम करने का मायावी जाल फैला हुआ है .४४,००० करोड़ का व्यापार ठांटे मर रहा है जिसमे दादी माँ के नुस्खे हैं एक छोर पर ,हर्बल रेमेडीज हैं और सबपे बरपा हैं मोटापा कम करने वाली गेजेट्स .

काम न करें तो कह दो ठीक से इस्तेमाल नहीं की गईं हैं .विज्ञापन में मनी बेक गारंटी और यथार्थ में ठन ठन पाल मदन गोपाल .

रोका जा सकता है ओबेसिटी को .विशेष कुछ करना भी नहीं है .रसोई को उसकी गरिमा लौटानी है .हफ्ते में दो बार बाहर खाना बंद करना है .

शराब और सिगरेट को न कहना है .

कर सकेंगे  मैं और आप ?

कल तक हम भी यही सोचते थे अमरीका फेटेस्ट कंट्री है और मिशिगन वहां का फेटेस्ट राज्य .पहली मर्तबा वहां जाने पर यही लगा था .

अब परसों चौथी मर्तबा जब वहीँ के लिए मुम्बई -फ्रेंकफर्ट -देत्रोइत (लुफतान्षा) रवाना हो र्ताहा हूँ यह भ्रम टूट रहा है .

मेरा भारत जल्दी ही इस मिथ को तोड़ेगा .

मिलते हैं ब्रेक के बाद -

४३,३०९ ,Silver Wood DR.,Canton ,MI,USA 
48 188 
पर .
००१ -७३४४ ६५४५१ 

००१ ३१३ ७३७ ०१०७ . 

10 टिप्‍पणियां:

दिगम्बर नासवा ने कहा…

Aapki yatra sukhad ho ... Agar Dubai ho ke ja rahe hain to aapka swagat hai ....
Ram Ram Ji ....
Gud ki Dali ke Saath feeki chay ... Prayaas jaroor karunga ... Shukriya ...

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

समस्या तो विचारणीय है......

Arvind Mishra ने कहा…

यात्रा और परदेश प्रवास की बहुत बहुत शुभकामनाएं

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

परम्परागत खानपान जब तक बना रहेगा, स्वास्थ्य दुरुस्त रहेगा।

रविकर फैजाबादी ने कहा…

टापा भारत ने सही, अब है नम्बर एक |
मधुमेह कैंसर भ्रष्टता, हुई मार्केट ब्लैक |
हुई मार्केट ब्लैक, रसोई माँ की रोई |
रोटी सरसों साग, आग चूल्हे की खोई |
जारी भागमभाग, रास्ता कितना नापा |
सब रोगों का बाप, किन्तु है यही मुटापा ||

शुभ यात्रा-
वीरुभाई !!

रविकर फैजाबादी ने कहा…

प्रस्तुति चर्चा मंच पर, मचा रही हडकम्प ।

मित्र नहीं देरी करो, मार पहुँचिये जम्प ||

--

शुक्रवारीय चर्चा मंच

डॉ टी एस दराल ने कहा…

खान पान के साथ निष्क्रियता भी जिम्मेदार है मोटापे के लिए .
जितना सक्रीय रहेंगे , उतना ही फिट रहेंगे .

Anita ने कहा…

मोटापा कई रोगों को जन्म देता है, इससे मुक्ति पानी ही होगी यदि स्वस्थ रहना है.

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

बहुत सार्थक पोस्ट .....

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') ने कहा…

पश्चिम की छूरी चली, भारत हुआ हलाल.
फास्टफुड इठला रहा, लज्जित रोटी दाल.

सादर.