मंगलवार, 18 अक्तूबर 2016

हैप्पी हेलोवीन हिलेरी हैप्पी हैलोवीन , आधी दुनिया की तुम सूरत ,हो कुशलात प्रवीण ,

ट्रम्प जिन्हें लोगों ने अब ट्रेश कहना शुरूकरदिया है ,इन्हें तो हाथ नचाने भी ठीक से नहीं आते। इनसे बढ़िया हाथ तो वो नचाते हैं जो बच्चे के जन्म दिन की बधाई घर घर जाकर देते हैं और इसी ज़रिये से अपनी आजीविका कमाते हैं। इनकी हार तो सुनिश्चित है ही लेकिन इनका अभी और बे -इज़्ज़त होना मौतरमाओं के हाथों बाकी है।

हैप्पी हेलोवीन हिलेरी हैप्पी हेलोवीन।  

तुम्ही बनोगी क्वीन। 

रचोगी इक इतिहास नवीन। 

रचोगी ताना बड़ा महीन। 

दोनों भाषाओं हिंदी और अंग्रेजी में समान दखल रखने वाला एडिट प्लेटर बहुत कम समय में ,उर्दू जबान में कहो तो जुम्मा -जुम्मा आठ रोज़ में ही खबरों में मुख्यखबर बनकर ,खबरों की दुनिया का सरताज बन कर छा गया  है. अपनी विश्वसनीयता ,भाषा की गरिमा और कथ्य न्यूज़ कंटेंट्स को लेकर। जहां इलेक्ट्रोनी पत्रकारिता चैनलियों की भीड़ में न सिर्फ अपनी साख गँवा चुकी है जन-प्रतिबद्धता से कोसों दूर चली गई है ,वहीँ इस या उस राजनीतिक खेमे से आज़ाद एडिट प्लेटर दिनों दिन मनभावन होता गया है। इतनी अपेक्षा तो रखी  ही जा सकती है इस पाक ,पत्रकारिता के प्रति -प्रतिबद्ध मीडिया समूह (हिंदी -अंग्रेजी एडिट -प्लेटर ) में कौन -कौन किस पृष्ठभूमि से आया है और कहाँ से आया है। उसका साहित्यिक अवदान क्या रहा है। उसका परिचय प्लेटर के प्रति अनुराग को अवश्य ही बढ़ाएगा ऐसा मेरा मानना है।रोज़ाना अपने एक चेहरे को आप हमसे रु -ब -रु करवाएं।



हैप्पी हेलोवीन हिलेरी हैप्पी हैलोवीन ,

आधी दुनिया की तुम सूरत ,हो कुशलात प्रवीण ,

जीत रही हो भारी मत से है बिलकुल निर्णीत ,

अमरीका का लिख दिया तुमने एक इतिहास नवीन।

अमरीका का तुम्हीं लिखोगी नित इतिहास नवीन।

  

1 टिप्पणी:

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि- आपकी इस प्रविष्टि के लिंक की चर्चा कल बुधवार (19-10-2016) के चर्चा मंच "डाकिया दाल लाया" {चर्चा अंक- 2500} पर भी होगी!
करवाचौथ की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'