गुरुवार, 12 जनवरी 2012

मुंबईकरों के लिए विशेष -तपेदिक से बचाव के लिए माहिरों ने दिए नुश्खे

मुंबईकरों के लिए विशेष -तपेदिक से बचाव के लिए माहिरों ने दिए नुश्खे -
(१)बनाए रहें शरीर में विटामिन -डी का ज़रूरी स्तर इस एवज -मछली का सेवन करे .
(२)हरेक छमाही में कमसे कम चार हफ्ते तक केल्सिरोल ग्रेन्यूल्स का एक पैकिट एक ग्लास दूध में मिलाकर लें .
(३)अल्फा -थ्री की एक गोली ०.२५ माइक्रोग्राम की सुबह शाम तीन माह तकलें .साल में एक मर्तबा यह कोर्स पूरा कर लें .
सायन अस्पताल के माहिर एवं कार्यकारी डीन डॉ .सुलेमान मर्चेंट के अनुसार बेकाबू और सभी प्रथम और द्वितीय पंक्ति की तपेदिक दवाओं से बे -असर बने रहने वाले तपेदिक के बसिलाई को पश्त करने में विटामिन डी की समुचित खुराक कारगर सिद्ध हो सकती है .इस बाबत आपने महाराष्ट्र के स्वास्थ्य निदेशक को भी अपनी अनुशंशा भेजी है .भारत सरकार समेत देश के सभी राज्यों के सेहत के वज़ीरों को भी इस आशय का पत्र भेजा जाएगा .
माहिरों के अनुसार टोटली ड्रग रेज़ीस्तेंट ट्यूबरकुलोसिस के इलाज़ में विटामिन -डी की एहम भूमिका है .बकौल बोम्बे टी बी अस्पताल की माहिरा डॉ अनिता नेने के अनुसार हमारे शरीर में पी एच १ तथा पी एच २ प्रणालियाँ काम करतीं हैं .
पी एच १ बचावी प्रणाली है जो सक्रिय रहते तपेदिक से बचाव का काम करती है .लेकिन पी एच २ के सक्रिय होते ही तपेदिक की गिरिफ्त में व्यक्ति चला आता है .विटामिन डी शरीर में पी एच १ को सशक्त करता है .सूरज की रोशनी और मछली विटामिन डी के दो प्रमुख स्रोत हैं लेकिन सूरज की रौशनी को शहरी प्रदूषण बे -असर किए रहता है जिसकी मौजूदगी में चमड़ी के नीचे विटामिन डी बनता है .
राम राम भाई ! राम राम भाई !
जनवरी १२,२०१२


सेब (apple) को बेशक छील के खाइए लेकिन छिलकों से साफ़ करिए चेहरे पे जमा धूल मिटटी चमड़ी में मौजूद दूसरी अशुद्धियों को .
After eating an apple ,use the skin on your face to remove dirt and other skin impurities.
शरीर पे उभर आए स्ट्रेच मार्क्स को रफा दफा करने के लिए जहां जहां वे हैं वहां वहां दिन में तीन मर्तबा चमेली के तेल से हलकी मालिश करें .बतलादें आपको फास्ट फ़ूड का चस्का भी इनकी वजह बन रहा है यकीन मानिए .
Applying lavender oil thrice a day on the area of the body with stretch marks can help fade the marks .

आज का नीति परक दोहा -
रहिमन ओछे नरन ते,वैर भली न प्रीत ,
काटे चाटे स्वान के .दुई भांति विपरीत .

8 टिप्‍पणियां:

यादें....ashok saluja . ने कहा…

वीरू भाई राम-राम !

बीमारी से बचाव ,सेहत के नुस्खे और दोहों से सीख !किस-किस की तारीफ़ करूँ ....?
बस लगे रहो और डटे रहो ! वीरू भाई....|
शुभकामनाएँ!

रेखा ने कहा…

मुंबई के लोगों के लिए तो बहुत अच्छी खबर है ..
नुस्खे भी उपयोगी हैं ...आभर

डॉ टी एस दराल ने कहा…

काश कि धूप से ही विटामिन डी ले पाते ।
बहुत अच्छी जानकारी दी है ।
एल्फा डी ३ को कृपया ०.२५ माइक्रो ग्राम कर दें ।

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

मछली छोड़ सब कर सकते हैं।

veerubhai ने कहा…

माइक्रोग्राम कर दिया गया है .डॉ दराल साहब आपका शुक्रिया सदैव ही आपका प्रोत्साहन मिलता रहे यह ज़रूरी है सम्पादन आप ही कीजिएगा .

Maheshwari kaneri ने कहा…

उपयोगी नुस्के बहुत सुन्दर..आभार...

SM ने कहा…

nice info of vitamin D.

Amrita Tanmay ने कहा…

महत्वपूर्ण दस्तावेज सा आलेख..