मंगलवार, 13 मार्च 2012

प्रत्यारोपित अंग को स्वीकृति दिलवाने के लिए अब स्टेम सेल्स का टीका .

प्रत्यारोपित अंग को स्वीकृति  दिलवाने के लिए अब स्टेम सेल्स का टीका .
stem -cell jab will help cut risk of organ rejection/THE TIMES OF INDIA,MUMBAI ,MARCH 12,2012,P17.
प्रत्यारोप  विज्ञान  के लिए एक नै खबर है अब किडनी प्रत्यारोप के लिए प्रतीक्षारत मरीजों को प्रत्यारोपित अंग को स्वीकृति दिलवाने के लिए बस एक टीका कलम कोशिकाओं का लगवाना पडेगा .न उम्र भर अब प्रतिरक्षा प्रणाली का शमन करने वाली दवाओं को खाने का झंझट ही रहेगा न इन दवाओं के अवांछित प्रभाव ही भुगतने पड़ेंगे .
इस टीके की आजमाइशें आदिनांक जिन गिनती के मरीजों पर की जा सकी है उसके नतीजे आशा के अनुरूप ही रहें हैं .अब तक दी जा रही दवाओं के पार्श्व प्रभावों में उच्च रक्त चाप  और मधुमेह का ख़तरा मुंह बाए खड़ा रहता था .बेशक प्रत्यारोपित अंग को स्वीकृति मिल जाती थी लेकिन कई और स्वास्थ्य समस्याएं गले पड़ जातीं थीं .अलावा इसके फिर भी गंभीर संक्रमण का ख़तरा बना रहता था .
विज्ञान प्रपत्र 'ट्रांसलेश्नल मेडिसन 'में प्रकाशित इस नए तरीके के आने से 'एंटी  - रिजेक्शन   मेडिसन लेने    की दरकार  नहीं  रह   जायेगी
Northwestern University Feinberg School of Medicine  के साइंसदान जोसेफ लेवेंथल आरंभिक नतीजों  से न सिर्फ बे -इन्तहा उत्तेजित हैं इन्हें अंग प्रत्यारोपण के क्षेत्र में  भविष्य के लिए एक नै राह दिखलाने वाला बतलातें हैं .
 
नुश्खे सेहत के :
       धूम्र पान से होने वाली नुकसानी की थोड़ी भरपाई के लिए सुबह सवेरे दो चम्मच  प्याज का अर्क निकाल कर ताज़ा ताज़ा लीजिए .
खून की कमी से निजात पाने के लिए :लौह तत्व आयरन से भरपूर  एपिल(कश्मीर, किन्नौर      या शिमला ,कुल्लू मनाली का सेव ) का सेवन नियमित तौर पर लीजिये   .
नुश्खे सेहत के :अनिद्रा   रोग  इनसोम्निया  से बचाव के लिए खाइए अंगूर :अंगूर के बाहरी महीन  कवच  में जो भीतरी गूदे  से लिपटा रहता है नींद  का  विनियमन  करने वाला हारमोन मेलेटोनिन  मौजूद है इसीलिए यह फल एक अच्छा स्लीप रेगुलेटर माना जाता  है .अनिद्रा से बचाव के लिए अंगूर खाइए रोजाना  .
नुश्खे सेहत के :
फ्लोराइड और फ़्लवोनोइद्स से भरपूर है चाय .अश्थियों को मजबूती प्रदान करतें हैं  ये दोनों  ही तत्व.अश्थी भंग से बचाव करती है चाय .वैसे भी चाय का नशा एक सात्विक नशा है हमारे सौन्दर्य बोध मिलन सारी ,पुर सुकून बातचीत विमर्शों का हिस्सा  है चाय .मुंबई का रेशम भवन चाय गोष्ठियों का एक ऐसा केंद्र है जहां बैठकर आप हर  राज्य की चाय का मजा ले सकतें हैं .मसाला चाय का लुत्फ़ उठा सकतें हैं कुल्ल्ह्डमें.
.
    

11 टिप्‍पणियां:

डा. अरुणा कपूर. ने कहा…

खबर बहुत अच्छी है!...सायंस की नवीन तम उपलब्धी है!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

जानकारी प्रदान करने के लिए आभार!

रविकर ने कहा…

न उम्र भर अब प्रतिरक्षा प्रणाली का शमन करने वाली दवाओं को खाने का झंझट ही रहेगा न इन दवाओं के अवांछित प्रभाव ही भुगतने पड़ेंगे ||

बढ़िया खबर |
जग का कल्याण हो |

डॉ टी एस दराल ने कहा…

स्टेम सेल थेरपी एक क्रांतिकारी अन्वेषण साबित होगा ।
सेहत के नुश्खे बड़े फायदेमंद हैं भाई जी ।

मनोज कुमार ने कहा…

महत्वपूर्ण जानकारी पढ़ने को मिली ।
उपयोगी जानकारी पढ़ने को मिली

SM ने कहा…

good information about apple

रविकर ने कहा…

सजी मँच पे चरफरी, चटक स्वाद की चाट |
चटकारे ले लो तनिक, रविकर जोहे बाट ||

बुधवारीय चर्चा-मँच
charchamanch.blogspot.com

Arvind Mishra ने कहा…

जानकारी भरा ..रणवीर सिंह की तलाश कहीं ऐसे पोस्ट की तो नहीं है?

दिगम्बर नासवा ने कहा…

चाय सेव अंगूर तो ठीक है पर प्याज का अर्क ... अच्छा है सिगरेट नहीं पीते हम ...
राम राम जी ...

संजय भास्कर ने कहा…

जानकारी प्रदान करने के लिए आभार!

कुमार राधारमण ने कहा…

चाय को लेकर इतना भ्रम है कि समझ में नहीं आता,जारी रखा जाए या छोड़ा जाए।