गुरुवार, 7 नवंबर 2013

सवाल आपकी सेहत के ज़वाब माहिरों के (तीन किस्तों में समाप्य )

सवाल आपकी सेहत के ज़वाब माहिरों के (तीन किस्तों में समाप्य )

प्रश्न :कैसे काम करता है हमारा इम्यून सिस्टम (रोगप्रतिरोधी तंत्र )?कैसे  

रखा जाए इसे दुरुस्त ?

उत्तर :कुदरत के बख्शे हुए इस रोग प्रति -रक्षा कवच पर हमारा ध्यान तभी जाता है जब हम बीमार पड़  जाते हैं। और डॉकटर कहे -You have a compromised immune system .

जबकि यही वह प्रणाली है जो निशिबासर हमारी हिफाज़त करती रहती है जिसका सबसे बाहरी प्रहरी है हमारी त्वचा। 

सर्दी के मौसम में इसकी ज़िम्मेवारी भी बढ़ जाती है। इस समय सर्दी जुकाम ,कामन कोल्ड ,फ्ल्यू आदि का मौसम कब चला आता है  इल्म नहीं रहता। 

भले इसकी संरचना काफी क्लिष्ट ,पेचीला है लेकिन इसका मुख्य प्रकार्य   सीधा सपाट बोध गम्य है। बाहर से शरीर पे घात लगाके हमला करने वाले रोगकारकों पैथोजन्स -जीवाणु ,विषाणु आदि से यही हमें बचाये रहता है। इनकी शिनाख्त करके सुरक्षा कर्मियों को रेड एलर्ट ज़ारी कर देता है। 

लेकिन जीवन उतना सपाट नहीं है। हमारा अपना विचित्र व्यवहार ही कई मरतबा इसके पंख  कुतरता रहता है।ऐसे में हम कई किस्म के संक्रमण यहाँ तक के  क्रोनिक इलनेस  का भी मुकाबला नहीं कर पाते हैं। sniffle season आने की देर भर होती है। फिर एकाएक नाक से सांस खींचते हुए करो सूँ सूँ  . 

कैसे करें इस(Immune system )को खुद अपने ही द्वारा  

पहुंचाई गई क्षति की 

भरपाई ? 

कुछ रणनीतियां को तहत इसे बचाया जा सकता है मुर्दार  होने से :

Maintenance is the key 



आपकी तमाम अच्छी बुरी आदतों का आपकी सेहत पर प्रभाव पड़ता ही 

पड़ता है। इसका उचित रूप काम करते रहना इसे पुख्ता बनाये रहना ही 

ज़रूरी होता है न की इसे ओवर एक्टिव बनाना। 

An overactive immune system can actually get you in trouble .

संतुलन ज़रूरी है आपकी  भौतिक और मानसिक गतिविधियों में आपके 

नज़रिये में ।जिसका आपकी जीवन शैली से घनिष्ट सम्बन्ध रहता है। 

इसी से निर्धारण होता है संकट के समय आपका रोग रोधी तंत्र आपको 

संक्रमण से बचा पायेगा या नहीं। 

Staying active is essential . 

It's been shown in many studies that staying active is key to maintaining highly functional white blood cells ,which are the soldiers of the immune system .If you are a couch potato you are also making your immune system sluggish and increasing your risk of illness .Just 30 minutes of physical activity a day -something as simple as a short walk -is directly linked to improved immune system .

आखिर किसी भी मुकाबले में पैदल सेना  के दमखम 

और संख्या का बड़ा रोल होता है। 

रोग रोधी तंत्र का  सीमा सुरक्षा बल है स्वेत रुधिर 

कणिकाएं (leukocytes).

Watch your weight .

If you are overweight or obese ,that may mean your body is in a chronic state of inflammation .That distressed state can hamper ,your immune system and in turn put you at risk of developing chronic diseases such as heart disease and diabetes ,further decreasing your ability to fight off infection .

Eat nutritious meals .

छत्तीस प्रकार के व्यंजन तो खैर अब घरों में नहीं बनते लेकिन मोटे खाद्यानों (whole foods )से भरपूर थाली आज भी सेहत के लिए सबसे बड़ी नियामत है। संतुलित पौष्टिक और पुष्टिकर आहार को कैसे नकारियेगा। जीरा रायता और सलाद ज़रूरी है खाने में एक फल भी थाली में रहे मौसमी फल ही भला ।

अतिरिक्त शक्कर लदे  खाने से घर- बाहर दोनों जगह बचें। 

Avoid high -sugar foods ,as excess sugar has been shown to suppress the immune system .

शमन करती है अतिरिक्त शक्कर रोग रोधी तंत्र का। नीचे के चित्र में इंद्रधनुषी सलाद दी गई है जिसमें phytochemicals का बाहुल्य है ,इसे अपनाइये। मोटा नियम है गहरे रंग के फल और तरकारियाँ। यही आपके रोग रोधी तंत्र के प्रहरियों की टूट फूट की भरपाई करके एक एंटीऑक्सीडेंट कवच मुहैया करवाएंगी। संक्रमण से बचाव भी। 

गुंजन शर्मा सैनी मेरी छोटी बेटी है।   


Guess what day it is? - its the "National Eating Healthy Day" and Quicken loans is stocking up their kitchens with fruits, veggies, cheese, yogurts and hummus for all team members all day....i must say I am a fan! Start your day by eating right and make healthy choice!!
पसंद ·  ·  · 10 घंटे पहले iOS के द्वारा · 

(ज़ारी )




5 टिप्‍पणियां:

रविकर ने कहा…

शुभकामनायें आदरणीय-
पहले चख तो लूँ -
बिटिया को स्नेह-

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

बहुत ही सुंदर और उपयोगी आलेख, आभार.

रामराम.

राजीव कुमार झा ने कहा…

बहुत उपयोगी जानकारी,आदरणीय वीरेन्द्र जी .
नई पोस्ट : उर्जा के वैकल्पिक स्रोत : कितने कारगर

Digamber Naswa ने कहा…

संतुलित जीवन ... बदलते मौसम क्या हर समय ही अच्छा है ... अती उत्तम बातें इस आलेख में ...

राजेंद्र कुमार ने कहा…

आपकी यह उत्कृष्ट प्रस्तुति कल शुक्रवार (08-11-2013) को "चर्चा मंचः अंक -1423" पर लिंक की गयी है,कृपया पधारे.वहाँ आपका स्वागत है.