गुरुवार, 3 दिसंबर 2015

विख्यात है की पंडितजी जवाहरलाल नेहरू के कपड़े ऑक्सफोर्ड में धुलते थे

लालू के भाग से उनके दो पुत्र विधानसभा का चुनाव जीत कर सदन में आ गए हैं। आते ही उनमें से एक ने छोटे मतलब बड़े ,बड़े मतलब छोटे लड़के ने प्रधानमन्त्री मोदी के कच्छे और चड्ढी की बात करनी शुरू कर दी है। हमें नहीं पता वह बड़ा है या छोटा ,अलबत्ता वह लालू पुत्र है यह जो नौवीं पास है (विख्यात है की पंडितजी जवाहरलाल नेहरू के कपड़े ऑक्सफोर्ड में  धुलते थे ,मंदमति का  अनुकरण करते हुए लालू पुत्र  विधानसभा में आते ही अपने खानदान की तहज़ीभ का परिचय देने लगा है। इन्हें अपनी  माँ राबड़ी के सम्मान और नाम का ही लिहाज़ नहीं है तब ये भारत माँ की लाज की क्या याद रखेंगे। अभी राजनीति में आँखें ही खोली हैं और पिता का अनुकरण शुरू कर दिया। बरखुरदार थोड़ी सी इस देश की तहज़ीभ भी सीख लो बड़ो के बारे में कैसे बात करते हैं,ये सीख लो।  

2 टिप्‍पणियां:

JEEWANTIPS ने कहा…

सुन्दर व सार्थक रचना प्रस्तुतिकरण के लिए आभार..
मेरे ब्लॉग की नई पोस्ट पर आपका इंतजार....

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

समाचार पत्र में जब यह पढ़ा था तब बिलकुल यही ख़याल आया था . आज सारे नेता एक व्यक्ति के प्रति असह्ष्णु हो कर पुरे देश में असह्ष्णुता का माहौल बना देना चाहते हैं ... देश की छवि की चिंता नहीं बस सत्ता की चिंता है ...